भारत में खत्म हो रहा है नोटबंदी का असर, IFM की रिपोर्ट का दावा

वाशिंगटन। भारत में मोदी सरकार द्वारा लिए गए नोटबंदी का असर अब खत्म हो रहा है। अंतर्राष्ट्रीय मुद्राकोष(IFM) की ताजा रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है कि भारत में नोटबंदी का असर कम हुआ है। रिपोर्ट में ये भी कहा गया है कि भारत में नोटबंदी के दौरान डिजिटल लेनदेन की संख्या में इजाफा हुआ है। हालांकि ग्रामीण क्षेत्रों में अब भी कैश लेनदेन को ही तवज्जों दी जा रही है।

आईएमएफ एशिया व प्रशांत विभाग के डिप्टी डायरेक्टर केनेथ कांग का कहना है कि भारत में ऐसे कई संकेत दिखाई दे रहे हैं जो इस बात की ओर इशारा करते हैं कि भारत में नोटबंदी का असर कम हुआ है। साथ ही कई सारी ऐसा बाते भी सामने आई हैं, जिससे इस बात को बल मिलता है कि देश की अर्थव्यवस्था में लगभग 75 फीसद पुरानी करेंसी को नई मुद्रा से बदला जा चुका है। साथ ही हाल में औद्योगिक उत्पादन और पीएमआई जैसे कुछ संकेतक भी काफी बेहतर रहे हैं।

कांग का ये भी कहना है कि आईएमएफ अवैध वित्तीय लेनदेन के खिलाफ भारत सरकार के प्रयासों की सराहना करता है। उन्होंने इस बात का भी जिक्र किया कि जैसा कि भारत की अर्थव्यवस्था में नकदी एक अहम पहलू है इसलिए बहुत जरूरी है कि जितनी जल्दी हो सके नई मुद्रा को प्रचलन में लाया जाने का प्रयास किया जा रहा है।

कांग ने मोदी द्वारा लिए गए नोटबंदी के फैसले की सरहाना करते हुए कहा कि ऐसा कदम एक ऐतिहासिक कदम में माना जाएगा। आईएमएफ एशिया व प्रशांत विभाग के डायरेक्टर चांगयोंग री ने कहा कि नोटबंदी का आर्थिक विकास की दर पर कुछ नकारात्मक प्रभाव जरूर पड़ा, लेकिन 2017 में इसके खत्म हो जानें की उम्मीद की जा रही है।

 आशु दास