नहीं देखी होगी ऐसी खुदकुशी, मरने से पहले मनाया मौत का जश्न

इंदौर। दोस्ती की कई मिसालें आपने सुनी होगी। लेकिन आज जिस दोस्ती के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं वो कुछ अलग अलग है। दरअसल दो दोस्त हमेशा साथ रहती थी। एक दूसरे के साथ रहकर ही उन्हें खिशी मिलती थी। लेकिन दोनों लड़कियां अपनी व्यक्तिगत जिंदगी से नाखुश थी। एक दिन दोनों दोस्तों ने खौफनाक प्लान बनाया। न ही जिंदगी को छोड़ने के लिए और न ही उसे जीने के लिए। दोनों ने चाय बनाई उसमें जहर मिलाया फिर उस जहरीली चीय के साथ सेल्फी ली। इतना ही नहीं अपनी मौत को स्पेशल बनाने के लिए चाय पीने से पहले केक काटकर अपनी मौत का जश्न मनाया और फिर वो जहरीली चाय पीकर हमेशा के लिए दुनिया छोड़ दी। घटना मध्य प्रदेश के इंदौर की है। जहां ये दोनों सहेलियां रहती थी।

indore two frend suicide
indore two frend suicide

बता दें कि दोनों इंदौर में एक किराए के घर में रहती थी। एक का नाम रचना चौधरी और दूसरी का नाम तन्वी वास्कले था। रचना धार और तन्वी बड़वानी जिले की रहने वाली थी। रचना फाइनेंस कंपनी के कॉल सेंटर में, तो तन्वी कैटरिंग का काम करती थी। दोनों अपनी-अपनी जिंदगी से परेशान थीं। रचना शादीशुदा थी। उसका एक बेटा भी था, लेकिन पति से अक्सर परेशान रहती थी।

वहीं मामले को लेकर पुलिस का कहना है कि रचना के साथ काम करने वाले एक दोसेत ने उसे बार-बार फोन लगाया लेकिन उसने नहीं उठाया। उसके बाद एक दोस्त उनके घर आया और मकान मालकिन से उनके बारे बारे में पूछा उसने बताया कि दो दिन से दोनों को बाहर नहीं देखा गया। जब उनके कमरे की खिड़की से छांकर देखा गया तो अंदर दोनों लड़कियों के शव पड़े थे। उसके बाद पुलिस को इसकी जानकारी दी गई। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों शवों को कब्जे में लिया। पुलिस को मौके पर एक सुसाइड नोट भी मिला।

बता दें कि सुसाइट नोट में 27 तारीख दर्ज है। दोनों ने 28 अगस्त को सुसाइड की सुसाइड नोट में रचना ने लिखा की वो अपनी जिंदगी से काफी परेशान है। वो अपनी खुदखुशी के लिए खुद जिम्मेदार है। वो अपने पति से नफरत करती है। उसने आगे लिखा की मेरे मरने के बाद मेरी लाश मेरे पति के हाथ नहीं लगनी चाहिए और न ही मेरा अंतिम संस्कार एक सुहागन की तरह होना चाहिए। बेटे के लिए उसने लिखा की उसे उसके मां बाप को दे दिया जाए।