हत्यारोपी झोलाछाप डॉक्टर पर कार्रवाई के लिए दर-दर भटक रही महिला

हरदोई। देश के सबसे बडे सूबों में से एक हरदोई भी तमाम हादसों व वारदातों की वजहा से मीड़िया की सूर्खीयों में आता रहता है। सूबे में हाल ही में सत्ता पलट होने के बाद भी कई सूबों में अन्य तमाम वारदातों के साथ-साथ हरदोई में भी झोलाछाप डॉक्टरों की कई वारदातें मीड़िया के कैमरे में अनेकों बार कैद हुई है। और साथ ही अपने दफ्तरों में बैठ सरकार के आला अधिकारीओं के तो कानों पर जूं ही नही रेंगने को तैयार है। आपकों बता दें की जनपद हरदोई में भी एसी ही एक झोलाछाप डॉक्टर के द्वारा किए गए इलाज से एक व्यक्ति की मौत हो गई और मृतक की पत्नी व बेटा ड़ॉक्टर पर कर्रवाई करने के लिए दर-दर भटक रहे है।

Woman,going, wandering,action,fake doctor, crime, police, cm yogi adityanath
crime

देश के सबसे बडे जिले के टडियावां थाना इलाके में बीते सप्ताह एक झोलाछाप डॉक्टर के इलाज से हुई एक व्यक्ति की मौत हो गई। मृतक के पत्नी व बेटे ने आरोपी ड़ॉक्टर पर हरदोई के टडियावा थाने में शिकायत की है। लेकिन महिला का आरोप है कि पुलिस ने की ड़ॉक्टर पर कर्रवाई करने की बजाए लीपापोती करनी शुरू करदी है। आरोपी झोलाछाप डॉक्टर पर टडियावाँ पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की है। पीड़ित परिवार कार्रवाई के लिए 8 दिनों से दर-दर भटक रहा है मृतक की पत्नी व बेटा अधिकारियों के ऑफिस के चक्कर काट रहे हैं और न्याय की गुहार कर रहे हैं लेकिन पुलिस की आलाकमानों ने उनकी गुहार को नहीं सुना है जब कि घटना के समय हरदोई के तेज तर्रार SP साहब ने यह बयान भी दिया था कि जांच कर पूरी कार्रवाई की जाएगी लेकिन एक झोलाछाप के कहर से एक व्यक्ति की मौत हो जाती है और कार्रवाई ना होना यह पुलिस की उस कार्यशैली में बड़ा सवालिया निशान खडा कर रहा है।

Woman,going, wandering,action,fake doctor, crime, police, cm yogi adityanath
crime

किस तरीके से अधिकारी बयान तो दे देते हैं लेकिन उसके बाद मामला ठंडे बस्ते में डाल दिया जाता है इस का जीता जागता उदाहरण है यह झोलाछाप का कहर से मौत यह मामला टडियावां थाना इलाके में ही नहीं देखा जा रहा बलकी पूरे हरदोई जनपद के कई ऐसे इलाके हैं जहां झोलाछाप का मकड़जाल फैला हुआ है और बड़ी-बड़ी घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं लेकिन स्वास्थ्य महकमा भी इस पर सब कुछ जानते हुए अनजान बना बैठा है।