जाने क्यों शामिल होता है वैलेनटाइन वीक में प्रोमिस डे

नई दिल्ली। आज वैलेनटाइन वीक का पांचवा दिन यानी प्रोमिस डे है। अब आपके मन में यह सवाल तो जरुर आ रहा होगा कि भला वैलेनटाइन वीक में इस दिन को क्यों शामिल किया गया है? तो चलिए आज हम आपको बताते हैं कि इस दिन को प्यार के सप्ताह में जगह क्यों दी गई।

अक्सर युवा प्यार में पड़ने के बाद अपने पार्टनर से खुशी या प्यार में ऐसे बहुत से वादे कर देते हैं जिनको वो आगे चल कर जाने अंजाने मे तोड़ देते है या उन्हें पूरा नहीं कर पाते जिसके कारण उनके बीच अनबन या नाराजगी को जगह मिल जाती है। ऐसी ही गलतियों को सुधारने और अपने चाहने वाले का दिल वापस जीतने का लिए प्रोमिस डे को वैलेनटाइन वीक में शामिल किया गया है।

भले ही यह वीक प्रेमियों का हो लेकिन हर कोई कभी ना कभी, किसी ना किसी को कोई ना कोई वादा तो करता ही है। फिर चाहे वो मै हूं या आप। तो जरुरी नहीं कि यह दिन सिर्फ कपल्स ही सैलिब्रेट करें यह दिन आप अपने किसी दोस्त से कोई जैनूयन प्रोमिस करके या खुद से कोई बुरी आदत को छोड़ने का प्रोमिस भी करते हैं।

साथ ही वादा करो या किसी से वादा लो तो ध्यान रखना कि वो टूटे ना, नहीं तो आखिर में यही गाते रह जाओगे …. ‘कसमे वादे प्यार वफा सब बाते है, बातों का क्या’।