उत्तरकाशी में मौसम खतरनाक, घंटों बंद रहा एनएच

उत्तरकाशी। सोमवार सुबह से उत्तरकाशी जिला मुख्यालय सहित यमुना घाटी में जमकर बारिश होने की जानकारी मिली है। इससे डामटा व नौगांव की बीच सारीगाड़ तथा जरड़ा खड्ड में सड़क पर मलबा आ गया और हाईवे बंद हो गया। मार्ग पर दोनों ओर से वाहनों की लंबी कतार लगी। स्थानीय लोगों ने एनएच के अधिकारियों को इसकी सूचना दी। करीब डेढ़ घंटा हाईवे बंद रहा।

 

चमोली जिले में भी मौसम के अलग-अलग रंग दिखे। बद्रीनाथ धाम में बादल छाने के साथ हल्की बूंदा-बांदी हुई, जबकि निचले क्षेत्रों में दो घंटे तक तेज बारिश होने से लोग सहमे रहे। तेज बारिश के चलते नालियों का पानी सड़कों पर बहने से वाहनों की आवाजाही देर तक बाधित रही।
मुख्यालय पौड़ी सहित आस-पास के क्षेत्रों में भी मौसम में तीखापन देखा जा रहा है। सुबह से ही बादल छाने के बाद मौसम ने करवट बदली तो तेज हवाओं के साथ झमाझम बारिश भी शुरू हो गई। इतना ही नहीं शहर के कई कस्बों में विद्युत आपूर्ति भी ठप हो गई है। पल-पल बदल रहे मौसम और ओलावृष्टि से लोगों की बागवानी को भी काफी नुकसान पहुंचा है।
रविवार शाम को भी चली तेज हवा से विकासखंड पाबौ के कोठला गांव निवासी प्रकाश चंद्र, कैलाश चंद्र के मकान की चादर की छत उड़ गई। बीना देवी की गोशाला को भी काफी नुकसान पहुंचा है। मरोड़ा गांव में तेज हवा चलने से जर्नादन सिंह रावत का पॉलीहाउस क्षतिग्रस्त होने से यहां उगाई गई सब्जियों को भारी नुकसान हुआ है।