न्याय के लिये भटक रहा है पीड़ित परिवार, महिलाओं की सुरक्षा पर फिर उठे सवाल

फतेहपुर। सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ कानून व्यवस्थाओं को लेकर बड़े-बड़े दावे कर रहे हैं। मगर सारे दावों की हकीकत नित्य दिन किसी न किसी रूप में सामने आ रहे हैं। अपराधी बेखौफ होकर खुलेआम घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं और पुलिस सिर्फ जांच के बाद कार्रवाई की बात करते नजर आ रही हैं। महिलाओं की सुरक्षा के लिए एंटी रोम्यों स्क्वाइट टीम का गठन किया गया था। मगर यह भी जमीनी हकीकत में अमली जामा पहनाने में बहुत दूर नजर आ रही हैं। गांव की भोली-भली लड़की को बंधक बनाकर युवक अपनी मनमानी करता रहा और परिजनों को जान से मारने की धमकी देता रहा है। वहीं परिजनों को अभी तक पुलिस की तरफ से सिर्फ आश्वासन ही मिला है।

Wandering,justice, victims,' families, again, raised, questions, about safety, women,
victims’ families

उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जनपद के बिन्दकी कोतवाली क्षेत्र के महमूदपुर गांव का है। पीड़ित परिजनों ने मिडिया को बताया की मेरे ही गांव के रहने वाले मानसिंह और चिन्का नामक दबंग व्यक्ति है। जिन की नियत मेरी नाबालिग बेटी पर खराब थी। 2 माह पहले मेरी बेटी का मौका पाते ही अपहरण कर आरोपी ने अपने घर में बंधक बना लिया और पीड़ित परिजनों को जान से मारने की धमकी देकर मुंह बंद रखने का अपना फरमान सुना दिया था। उसकी बात न मान हम लोगों ने इसकी शिकायत थाने जाकर की। मगर वहां हम लोगों की कोई सुनवाई नहीं हुई है।

हम लोग अपना घर छोड़ कर इधर-उधर भटक रहे है। गांव जाता हूं तो हमारे साथ मार पीट की जाती है। अब पुलिस अधीक्षक से मिल कर न्याय की गुहार लगाई है। वहीं पुलिस अधीक्षक ने बताया की मामला मेरे संज्ञान में आया है। पडोसी द्वारा एक बालिका के साथ दुराचार किया गया है। पुलिस ने मुकदमा पंजीकृत किया हुआ हैं। पुलिस द्वारा जांच की जा रही है। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि आरोपी को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जायेगा।