गोरखपुर मामले पर ट्वीट कर फंसे विरेंद्र सहवाग, जाने ऐसा क्या कहा

नई दिल्ली। गोरखपुर में 60 बच्चों की मौत को लेकर पूरा देश सदमें में है हर कोई बच्चों की मौत पर शोक जता है। वहीं टीम इंडिया के पूर्व बल्लेबाज विरेंद्र सहवाग ने गोरखपुर में बच्चों की मौत को लेकर ऐसा ट्वीट कर दिया जिसकी वजह से वो ट्रोल हो गए। दरअसल विरेंद्र सहवाग हर मुद्दे पर सोशल मीडिया पर अपनी राय रखते हैं लेकिन गोरखपुर मुद्दे पर बच्चों की मौत पर किए गइ उनके ट्वीट पर लोगों ने जमकर सवाल उठाए।

virender sehwag, troll, social media, twitter, gorakhpur, incidence
virender sehwag

बता दें कि गोरखपुर के बीआरडी अस्पताल में पिछले 6 दिनों में 63 बच्चों की मौत हो गई है। जिसमें 30 से ज्यादा बच्चों की मौत ऑक्सीजन की कमी के कारण हुई है। सहवागव ने अपने ट्वीट में लिखा कि गोरखपुर में बच्चों की मौत का बहुत गहरा दुख है। अब तक 50 हजार से ज्यादा बच्चे इंसेफेलिटीस नाम की बीमारी के कारण अपनी जिंदगी गवा चुके हैं। साथ ही सहवाग ने दूसरे ट्वीट में लिखा की बच्चों की मौत से जुड़ा पहला मामला 1978 में सामने आया था। इसी साल मेरा भा जन्म हुआ था। बच्चों की इस बीमारी से बचाने के लिए हम आज तक इस बीमारी की जड़ तक नहीं पहुंच चुके हैं। दिल टूट गया है।

दरअसल सहवाग ने इस पूरे मामले को एक बीमारी से जोड़ दिया और सहवाग ने बच्चों की मौत को ऑक्सीजन की कमी से न जोड़ कर एक बीमारी के कारण बताया। वहीं सहवाग के इस ट्वीट से उनके फैंस ने उन्हें जमकर ट्रोल किया। एक यूजर ने लिखा कि बच्चों की जान तो मच्छरों ने ली है योगी सरकार ने नहीं शर्म आनी चाहिए तुम्हे। वहीं हरिओम शर्मा नाम के एक यूजर ने लिखा कि सच दिखता नहीं या देखना नहीं चाहते। पीरे देश को पता है कि बच्चों की मौत ऑक्सीजन की वजह से हुई है।

इसके बाद सहवाहग ने एक और ट्वीट किया जिसमें उन्होंने लिखा कि हमारे देश में हर किसी की जिंदगी कीमती है। हर किसी की लाइफ मायने रखती है। जितना बताया जाता है सबकी जिंगदी उससे कही ज्यादा कीमती है।