ग्रामीणों ने किया चुनाव का बहिष्कार

लखीमपुर खीरी। जिले में जोराहा नदी पर जनप्रतिनिधियो द्वारा हर बार पुल बनाने की घोषणा करने के बाद भी पुल न बन्ने से नाराज ग्रामीणों ने पुल के पास इकठ्ठा होकर प्रदर्शन कर नारेबाजी की। साथ ही चुनाव बहिष्कार का एलान किया। हाथो में बैनर लेकर उन्होंने बहिष्कार का साफ संदेश दिया। इलाके में िस बार फिर चुनावी बयार बहने के साथ नदी पर पुल का मुद्दा एक बार फिर गरम हो गया है।

निघासन तहसील गके अंतर्गत चौगुर्जी सहित कई गांवों के लोग इकठ्ठा हुए और उन्होंने इस बात का एलान किया। दरअसल इस जोराहा नदी के माझा घाट से होकर कई गांव पड़ते है और इनमें सिख समुदाय की तादाद ज़्यादा है। तमाम तरह की दिक्कतें उठाने के बाद इन ग्रामीणों ने नेताओ के चक्कर लगाये और भरोसा भी दिया गया लेकिन मामला सिर्फ चुनाव तक सिमित रहा।साथ ही राजनैतिक दलों को गांव के अंदर प्रवेश न करने का निर्णय लिया हैं।

मांझा स्थित गुरूद्वारे में चौगुर्जी, इच्छानगर, बगौडिया आदि ग्राम पंचायत के लोग एकत्रित हुए। इस दौरान पूर्व प्रधान परमजीत सिंह पम्मी ने कहा कि करीब 45 सालों से राजनैतिक दलों ने वोट लेकर पुल बनवाने का कोरा आश्वाशन जनप्रतिनिधि देते आए हैं। उन्होंने कहा कि इस पुल के बन जाने से तहसील मुख्यालय की दूरी मात्र 12 किलोमीटर पड़ेगी। वैसे तहसील मुख्यालय की दूरी करीब 26 किलोमीटर पड़ती हैं।

मंसूर खां, संवाददाता