वसुन्धरा राजे ने दिखाई देश की पहली हवाई तीर्थयात्रा योजना को हरी झंडी

जयपुर। मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने मंगलवार को जयपुर एयरपोर्ट पर आयोजित एक समारोह में दीनदयाल उपाध्याय वरिष्ठ नागरिक हवाई तीर्थयात्रा योजना का शुभारम्भ किया। राजे ने 70 वर्ष से अधिक उम्र के वरिष्ठ नागरिकों के इस दल को तमिलनाडु स्थित तिरुपति धाम के दर्शन के लिए रवाना किया। इन यात्रियों को तीर्थ स्थल भ्रमण के साथ-साथ ठहरने एवं भोजन सहित अन्य व्यवस्थाएं निशुल्क उपलब्ध करवाई जाएंगी। गौरतलब है कि 30 यात्रियों के इस दल में से 28 यात्री पहली बार हवाई यात्रा कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने जब वरिष्ठ नागरिकों को माला पहनाकर हवाई जहाज से तिरुपति धाम के दर्शन के लिए विदा किया तो उनके चेहरे खुशी से खिल उठे। यात्रियों ने राजे को आशीर्वाद देते हुए कहा कि उन्होंने यह यात्रा करवाकर उनका जीवन सफल कर दिया। उन्होंने सपने में भी नहीं सोचा था कि कभी वे हवाई जहाज से तीर्थयात्रा करेंगे। राजे ने इस अवसर पर कहा कि हमारे बुजुर्ग लंबी तीर्थयात्राएं कम समय में सुविधापूवर्क कर सकें, इस सोच को ध्यान में रखते हुए हमने देश में पहली बार यह हवाई तीर्थयात्रा योजना शुरू की है। इस योजना में हम इस वर्ष करीब एक हजार वरिष्ठ नागरिकों को हवाई तीर्थयात्रा करवाएंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वरिष्ठ नागरिकों को तीर्थ कराने का पुण्य पूरे राजस्थान को मिलेगा। उन्होंने कहा कि जब हमारे बुजुर्ग खुश रहेंगे तो प्रदेश का हैप्पीनेस इंडेक्स भी बढ़ेगा। हवाई तीर्थयात्रा शुरू होने से आज यह हैप्पीनेस इंडेक्स बढ़ा है। उन्होंने कहा कि मेहनत के साथ-साथ बुजुर्गों का आशीर्वाद, दुआएं और पुण्य साथ हो तो प्रदेश की तरक्की को कोई नहीं रोक सकता। उन्होंने यात्रियों से कहा कि वे तिरूपति धाम में राज्य की खुशहाली के लिए भी प्रार्थना करें।

देवस्थान राज्यमंत्री राजकुमार रिणवा ने भी समारोह को संबोधित किया। इस अवसर पर सांसद रामचरण बोहरा, देवस्थान प्रन्यास मण्डल के अध्यक्ष एसडी शर्मा, प्रमुख शासन सचिव देवस्थान आलोक सहित अन्य जनप्रतिनिधि, गणमान्यजन एवं अधिकारी उपस्थित थे।