वाराणसी, इलाहाबाद के बाढ़ पीढ़ितों के लिए ओला बोट्स

वाराणसी/इलाहाबाद। वाराणसी और इलाहाबाद में बाढ़ से प्रभावित हजारों नागरिकों की मदद करने के प्रयास में मोबाइल एप ओला ने शुक्रवार को घोषणा की कि उत्तर प्रदेश के दो शहरों के प्रभावित क्षेत्रों में लोगों की मदद के लिए ओला बोट्स उपलब्ध कराई गई है। पेशेवर नाविकों से युक्त ये ओला बोट्स बाढ़ में फंसे नागरिकों को बचा कर सुरक्षित स्थानों तक पहुंचाने में मदद करेंगी और उन तक राहत सामग्री जैसे खाद्य पदार्थ, पेयजल और दवाएं पहुंचाएंगी।

Varanasi

ओला ने वाराणसी और इलाहाबाद में अपने एप पर एक विशेष कैटेगरी ‘डोनेट’ पेश की है। वे नागरिक जो बाढ़ प्रभावितों के लिए खाद्य सामग्री, कपड़े, कम्बल, दवाएं आदि दान में देना चाहते हैं, ओला एप खोल कर इस आइकन पर क्लिक कर सकते हैं। ओला की एक राहत वैन उनके घर पहुंच कर उनसे यह सामग्री इकट्ठा करेगी और इसे ओला बोट्स के माध्यम से बाढ़ में फंसे लोगों तक पहुंचाया जाएगा। यह कैटेगरी 27 अगस्त से तीन दिनों के लिए हर दिन सुबह आठ बजे से शाम छह बजे तक लाइव रहेगी। ओला के व्यापार प्रमुख (पूर्व) पीयूष सुराना ने कहा, “वाराणसी और इलाहाबाद में हजारों नागरिक बाढ़ में फंसे हुए हैं और भारी बारिश और जल-भराव से परेशान हैं। हम चाहते हैं कि हमारे प्रौद्योगिकी मंच के माध्यम से वे लोग आसानी से जरूरी चीजें दान में दे सकें, जो इन बाढ़ पीढ़ितों की मदद करना चाहते हैं। दान में आई इस सामग्री को हम ओला बोट्स के द्वारा बाढ़ पीड़ितों तक पहुचाएंगे।”

सुराना ने कहा, “हम शहर के उन लोगों को परिवहन के साधन मुहैया कराकर भी उनकी मदद करेंगे, जिन्हें इनकी सबसे ज्यादा जरूरत है। हम हमारे उपयोगकर्ताओं से आग्रह करते हैं कि आगे आएं और संकट में फंसे अपने साथी नागरिकों की मदद के लिए हाथ बढ़ाएं।”

उल्लेखनीय है कि इससे पहले भी ओला ने चेन्नई और गुवाहाटी में इसी तरह के बाढ़ राहत अभियानों का आयोजन किया है।