पाकिस्तान से अपने देश वापस लौटेगी ये भारतीय महिला, पाक में हुई थी जबरन शादी

इस्लामाबाद। पाकिस्ता में एक भारतीय महिला की जबरन शादी करा दी गई थी। लेकिन अब इस्लामाबाद हाई कोर्ट ने भारतीय महिला उजमा को भारत वापस आने की इजाजत दे दी है। उजमा का आरोप था कि उसकी शादी जबरदस्ती पाकिस्तानी शख्स से करा दी गई था। इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने मामले की सुनवाई के बाद महिला को भारत जाने की अनुमति दे दी। इसके साथ ही कोर्ट ने पाकिस्तान पुलिस से कहा कि उजमा को वाघा बार्डर तक सुरक्षा मुहैया कराई जाए।

बता दें कि उजमा ने पाकिस्तानी पाकिसतानी शख्स ताहिर अली पर आरोप लगाया है कि उसने बंदूक की नोक पर उससे शादी की थी। उजमा ने पाकिस्तान स्थित इंडियन हाई कमीशन में इसकी शिकायत की थी। जिसके बाद उसे इंसाफ मिल गया और भारत वापस आने की अनुमति मिली। उजमा एक भारतीय नागरिक है और पेशे से एक डॉक्टर हैं।

पति के खिलाफ की याचिका दायर

बता दें कि उजमा ने इस्लामाबाद के एक कोर्ट में पति ताहिर अली के खिलाफ याचिका भी दायर की है। जिसमें उसने ताहिर के ऊपर उसे प्रताड़ित और धमकाने का आरोप लगाया है।
उजमा ने यह भी आरोप लगाया है कि उसके इमीग्रेशन संबंधी सारे दस्तावेज छीन लिए गए हैं। उजमा ने यह भी कहा कि वह सुरक्षित भारत लौटने तक इस्लामाबाद स्थित इंडियन हाई कमीशन नहीं छोड़ना चाहती हैं।

पाकिस्तान रिश्तेदारों से मिलने आई थी उजमा
पाकिस्तानी अधिकारियों का कहना है कि कि जब उजमा पाकिस्तान आई थी तो उसने ये नहीं बताया था कि वह शादी करने पाकिस्तान जा रही थी। उन्होंने वीजा के लिए आवेदन देते वक्त यह बताया था कि वो पाकिस्तान अपने रिश्तेदारों से मिलने जा रही हैं। उसके बाद उसने पिछले हफ्ते इंडियन हाई कमीशन से संपर्क किया और कहा कि वो भारत वापस लौटना चाहती हैं।

पाक विदेश मंत्रालय ने दिया था आश्वासन

पाकिस्तान विदेश विभाग की प्रवक्ता नफीस जकारिया ने अपने बयान में कहा था कि इंडियन हाई कमीशन ने पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय को यह सूचना दी है कि भारतीय नागरिक उजमा ने उनसे संपर्क किया है और वो वापस भारत लौटना चाहती है। पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता नफीस जकरिया ने कहा कि अभी अदालत में उजमा के मामले की सुनवाई चल रही है।