आकाशीय बिजली से गई तीन जानें, सात झुलसे

उत्तरकाशी। जिले के चांइशिल बुग्याल में आकाशीय बिजली गिरने से तीन ग्रामीणों की मौत हो गई, जबकि सात लोग झुलस गए। वहीं, रेस्क्यू के लिए हेलीकॉप्टर की व्यवस्था की गई थी, लेकिन वह वहां लैंड नहीं कर पाया।

क्योंकि सिंगल इंजन एवं अधिक ऊंचाई के कारण दिक्कत आ रही है। अब केदारनाथ से डबल इंजन के हेलीकॉप्टर की व्यवस्था की जा रही है।

मौडा गांव की प्रधान माया राणा ने बताया कि बीती रात मोर सिंह (48 वर्ष) पुत्र अमर सिंह निवासी मौडा आराकोट, लौकू सिंह (27 वर्ष) पुत्र रतन सिंह निवासी बलावट आराकोट और अमर सिंह (49 वर्ष) पुत्र दलीप सिंह निवासी बलावट आकाशीय बिजली गिरने से गंभीर रूप से झुलस गए थे।

शनिवार इन तीनों ग्रामीण की मौत हो गई। अन्य सात ग्रामीणों के झुलसे होने की सूचना है। उधर, जिलाधिकारी आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि चांइशिल बुग्याल में आकाशीय बिजली गिरने से झुलसे ग्रामीणों को निकालने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने बताया कि उत्तरकाशी जिला मुख्यालय से करीब 265 किलोमीटर दूर मोरी ब्लॉक का मोड़ा गांव पड़ता है।

मौड़ा गांव चांइशिल बुग्याल से 13 किमी की पैदल दूरी पर है। समुद्रतल से 3600 मीटर की ऊंचाई पर स्थित चांइशिल बुग्याल को इस बार ट्रैक ऑफ द इयर घोषित किया गया है। जून माह में इस ट्रैक पर ट्रैकिंग होनी है।