फिर स्मार्ट सिटी की रेस में शामिल हुआ देहरादून

देहरादून। प्रदेश में नई सरकार बनने के बाद एक बार फिर से केंद्र सरकार की स्मार्ट सिटी परियोजना की कवायद तेज हो गई है। प्रदेश के चुनिंदा शहर जो स्मार्ट सिटी परियोजना में पिछड़ गए थे वो वापस रेस में शामिल होने जा रहे हैं। मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण की ओर से केन्द्र सरकार को स्मार्ट सिटी का एक और प्रपोजल भेज गया है।

केंद्र सरकार को भेजे गए इस प्रपोजल के बारे में अधिकारियों का कहना है कि इस बार राजधानी देहरादून को स्मार्ट सिटी बनाने का राज्य सरकार का सपना पूरा होकर रहेगा। अधिकारियों का ये भी कहना है कि इस प्रपोजल से राज्य सरकार को काफी उम्मीदे हैं।

हर बार रेस से हो जाता है बाहर

गौरतलब है कि राजधानी देहरादून को स्मार्ट सिटी बनाने की कवायद काफी पहले से चल रही है। स्मार्ट सिटी परियोजना में देहरादून तीन बार हिस्सा ले चुका है लेकिन हर बार रेस से बाहर हो जाता है।ऐसे में एक बार फिर से अधिकारियों ने स्मार्ट सिटी के प्रपोजल को नए सिरे से तैयार कर केन्द्र को भेजा है।

केंद्र को भेजे गए प्रपोजल में एमडीडीए के उपाध्यक्ष डॉ. वी षणमुगम का कहना है कि नए प्रपोजल में कई बदलाव किए गए हैं। जिसमें देहरादून के 10 वार्ड शामिल करते हुए 875 एकड़ में स्मार्ट सिटी बनाने का प्रस्ताव रखा गया है।