वर्दी की गर्मी में जमीनी विवाद में दरोगा ने की हत्या

मऊ। पुलिस की वर्दी मऊ जिले में खून से दागदार हुई हैं। दरअसल उत्तर प्रदेश पुलिस में दरोगा के पद पर तैनात सुभाष ने जमीनी विवाद को लेकर अपने ही चचेरे भाई को गोली मार दिया हैं। जिससे उसकी मौंत हो गयी हैं। साथ ही इस विवाद में दो अन्य लोग भी गभीर रुप से घायल हुए हैं। वही घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस ने आऱोपी दरोगा और उसके बेटे को गिरफ्तार कर लिया हैं। साथ ही शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया हैं। इसके अलावा घटना में इस्तेमाल की गयी डबल बैरेल की बंदूक को भी पुलिस ने बरामद कर आगे की तफ्तीश में जुट गयी हैं।

दरअसल पुरा मामला मुहम्मदाबाद गोहना कोतवाली के चक भदवा गांव का हैं। जहां के निवासी सुभाष उत्तर प्रदेश के श्रावस्ती जनपद में वारलेंस विभाग में हेड आपरेटर के पद पर तैंनात हैं। दरोगा सुभाष का अपने ही पट्टीदारों से जमीनी विवाद चलता हैं। इसी विवाद को लेकर दरोगा ने अपने चचेरे भाई अनिरुद्धा को अपनी लाइसेंसी डबल बैंरेल बंदूक से गोली मार दिया। जिससे उसकी मौंत हो गयी। साथ ही इस विवाद में हुई मारपीट के दौंरान दो अन्य लोग भी गंभीर रुप से घायल हुए हैं।

फिलहाल घटना की जानकारी प्राप्त होते ही मौंके पर पहुची पुलिस ने आरोपी दरोगा सुभाष और उसके बेटे को गिरफ्तार कर लिया हैं। साथ ही मृतक अनिरुद्ध के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया हैं। घटना में प्रयोग की गयी डबल बैंरेल लाइसेंसी बंदूक और खाली कारतूस को बरामद कर लिया हैं। वही पुलिस ने बताया कि जमीनी विवाद को लेकर दरोगा ने सारे घटना क्रम को अंजाम दिया हैं। इस मामलें में सख्त से सख्त कानूनी कार्यवाही की जा रही हैं।

रवीन्द्र सैनी, संवाददाता