यूपी में कर्ज से परेशान किसान ने की आत्महत्या

लखनऊ/मैनपुरी। उत्तर प्रदेश के मैनपुरी जिले में एक किसान ने कर्ज अदा न कर पाने से परेशान होकर नहर में कूदकर जान दे दी। पुलिस ने पानी में किसान की तलाश की लेकिन देर रात तक कोई कामयाबी नहीं मिल सकी है। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस के मुताबिक, जिले के करहल थाना क्षेत्र के ग्राम नगला बाग के निवासी किसान चेतराम जाटव (75) ने तीन वर्ष पूर्व मैनपुरी स्टेशन रोड स्थित बैंक ऑफ इंडिया शाखा से एक लाख 40 हजार रुपये का ऋण लिया था। पिछले वर्ष गेहूं की फसल खराब हो गई इसलिए किसान ऋण की अदायगी नहीं कर पाया।

farmer 1

ऋण जमा न होने पर बैंक ने ढाई लाख रुपये की आरसी काट दी और वसूली के लिए उसकी फाइल तहसील भेज दी। वसूली के लिए करहल तहसील का अमीन बार-बार किसान के पास जा रहा था। ऋण अदा न करने से परेशान किसान ने मंगलवार देर शाम मैनपुरी-करहल मार्ग स्थित सिंहपुर नहर पुल से पानी में छलांग लगा दी। किसान की बरामदगी न होने के बाद रात में ही उनका पुत्र मुकेश मैनपुरी कोतवाली पहुंचा और तहरीर दी। उसने बताया कि पिता ऋण जमा न होने से परेशान होकर नहर में कूदकर आत्महत्या की है। पुलिस ने तहरीर के आधार पर मामला दर्ज कर लिया है।