उबर सीईओ ने ट्रंप की बिजनेस एडवाइजरी काउंसिल से किया किनारा

वॉशिंगटन। सात मुस्लिम देशों में वीजा बैन करने के बाद दुनिया के ताकतवर देश के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का जमकर विरोध हो रहा है यहां तक की विरोध उनकी सलाहकार समिति में भी अब साफतौर पर दिखने लगा है। जानकारी के मुताबिक ट्रंप की बिजनेस एडवाइजरी काउंसिल से उबर के सीईओ ट्रैविस क्लानिक ने इस्तीफा दे दिया है।

इस बात की जानकारी ट्रैविस ने कंपनी को भेजे एक ईमेल में दी। उबर के सीईओ ने कहा, बिजनेस एडवाइजरी ग्रुप में शामिल होने का मतलब राष्ट्रपति या फिर उनके किसी एजेंडे का समर्थन नहीं है लेकिन दुर्भाग्यवश इसे गलत ढंग से समझ लिया गया। और भी कई रास्ते हैं जिनके जरिए हम इमीग्रेशन नीति में बदलाव की वकालत करते हैं।

अपने मेल में ट्रैविक ने आगे लिखा, अमेरिकी राष्ट्रपति के आदेशों के बाद परिवारों को अलग होना पड़ रहा है और इसे देखकर ऐसा लग रहा है कि अब अमेरिका ऐसी जगह नहीं रह गई है जहां पर अप्रवासियों का स्वागत किया जाए।

बता दें कि27 फरवरी को ट्रंप ने फरमान जारी करते हुए सीरिया, यमन, सोमालिया, इराक, ईरान, सूडान, लीबिया जैसे देशों के लोगों को वीजा देने से बैन कर दिया जिसके बाद से उन्हें कड़ी आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है।