हरदोई में लुटेरे जीजा साले को पुलिस ने धर दबोचा

हरदोई। उत्तरप्रदेश के हरदोई जिले की पुलिस ने रिश्ते में जीजा साले लगने वाले दो ऐसे युवको को गिरफ्तार किया है जिन्होंने सड़क पर गिट्टी मिटटी ढोने वाले डंफर की लूट की घटना को अंजाम दिया। पकड़े गए दोनों जीजा साले अमेठी और सुल्तानपुर जिले के है जबकि इस मामले में पुलिस को अभी तीन और लोगो की तलाश है।

पुलिस की गिरफ्त में खड़े खाकी जैकेट वाला राजेश गुप्ता और इसके बगल में खड़ा काली जैकेट में इसका सगा साला मदनमोहन है। पुलिस ने इसको ऐसे अपराध में गिरफ्तार किया है जिसका मुकदमा किसी निर्दोष के खिलाफ दर्ज हुआ था। दरअसल हरदोई के कोतवाली देहात इलाके में लखनऊ के रहने वाले सवप्रीत सिंह ने अपने ही डंफर चालक नसीम के ऊपर डंफर को गायब करने का मुकदमा दर्ज कराया। पुलिस ने मामला दर्ज करके जब आरोपी ड्राइवर से पूंछताछ की तो उसने बताया की उसने डंफर की चोरी नहीं की बल्कि रास्ते में एक चौपहिया वाहन लगाकर पांच अज्ञात लोगो ने रास्ते में रोककर उसे बंधक बनाकर डंफर लूट लिया।

ड्राइवर की बाताें की पुष्टि होने पर पुलिस ने जब जांच आगे बढ़ाई तो पुलिस को दुसरे डंफर के ड्राइवर मदनमोहन की पूरे मामले में भूमिका संदिध लगी। जिसके बाद पुलिस ने उससे कड़ाई से पूंछताछ की तो उसने डंफर की लूट का राज पुलिस ने उगल दिया। पुलिस के मुताबिक डंफर लूट की घटना को उसके बहनोई राजेश ने अपने कुछ पूर्वांचल के साथियो के साथ मिलकर अंजाम दिया था। पुलिस ने राजेश और मदन मोहन को गिरफ्तार कर लिया है जबकि अभी पुलिस को इस मामले में इन दोनों के इलाके के तीन युवको और डंफर की अभी भी तलाश है।

 -आशीष कुमार सिंह