जानिए: क्या है आरूषि केस पर बनी दोनों फिल्मों की कहानी और असली कहानी में फर्क

मुंबई। इलाहबाद हाईकोर्ट ने बीते गुरूवार को नोएडा के चर्चित आरुषि हत्याकांड में उसकी मां डा. नुपूर और पिता राजेश तलवार को इस केस से बरी कर दिया। सीबीआई ने आरुषि की हत्या के लिए उसके माता-पिता को दोषी माना था। इलाहबाद हाईकोर्ट ने सीबीआई की दलीलों को खारिज कर दिया। इस कांड का बालीवुड के साथ भी करीबी रिश्ता रहा है। खास तौर पर इसी विषय को लेकर बालीवुड में दो फिल्में बन चुकी हैं।

aarushi murder case
aarushi murder case film

बता दें कि पहली फिल्म मनीष गुप्ता की रहस्य थी, जिसमें आरुषि के रोल में साक्षी क्षेम और उसके माता-पिता के रोल में टिस्का चोपड़ा और आशीष विद्यार्थी थे। इस फिल्म में केके मेनन इस केस की जांच करते हैं और ये फिल्म उसके घर में रह रहे नौकर और उसके दोस्तों को हत्या का दोषी मानती है। इसके बाद विशाल भारद्वाज के बैनर में मेघना गुलजार ने इसी कांड पर फिल्म तलवार बनाई, जिसमें आरुषि के माता-पिता के रोल में नीरज काबी और कोंकणा सेन शर्मा थे।

वहीं इस केस की जांच तलवार में इरफान कहते हैं। फिल्म का फोकस इस बात पर रहा कि कैसे अलग अलग जांच एजेंसियों के बीच तालमेल न होने और एक दूसरे के खिलाफ दोषारोपण के चलते ये केस बिगड़ा। सांकेतिक तौर पर इस फिल्म में आरुषि के माता-पिता को ही हत्या का जिम्मेदार माना गया था।