यातायात के शोरगुल से बढ़ता है हृदयाघात का खतरा

लंदन। व्यस्त सड़कों के आसपास रहना आपके दिल की सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है, क्योंकि एक नए शोध के मुताबिक यातायात के शोरगुल से हृदयाघात का खतरा बढ़ जाता है। शोधकर्ताओं ने कहा कि विमानों से होने वाले शोरगुल की तुलना में सड़क व रेल यातायात के शोरगुल से खतरा अधिक है।

Heart Attack

जर्मनी के ड्रेस्डन यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी के आंद्रियास सिडलर तथा उनके सह लेखक ने अध्ययन के लिए 40 वर्ष से अधिक आयु के 10 लाख से अधिक सांविधिक स्वास्थ्य बीमा कंपनियों की सूचनाओं का मूल्यांकन किया।

इस शोध में राइन-मेन क्षेत्र में रहने वाले लोगों के आसपास के सड़क, रेल व यातायात के शोरगुल का साल 2005 में मुआयना किया।

इसके बाद साल 2014/15 में हृदयाघात से मरने वाले लोगों से जुड़ी सूचनाओं का अध्ययन किया गया, तो यातायात के शोरगुल व हृदयाघात के बीच संबंध पाया गया।

शोधकर्ताओं का मानना है कि विमानों के कारण होने वाला शोर कम नुकसान पहुंचाता है, क्योंकि यह शोर 65 डेसिबल से अधिक नहीं होता।

यह अध्ययन पत्रिका ‘ड्यूस अर्जतेबलात इंटरनेशनल’ में प्रकाशित हुआ है।

(आईएएनएस)