चार देशों ने तोड़े कतर के साथ संबंध, आतंकवाद को बढ़ावा देने का लगाया आरोप

नई दिल्ली। सऊदी अरब ने UAE सहित 4 अरब देशों ने उस पर आतंकवाद का आरोप लगाते हुए सारे रिश्ते तोड़ने की घोषणा की है। अरब देशों का कहना है कि कतर आतंकवाद को बढ़ावा देता है। कतर से रिश्ता तोड़ने वाले देशों में सऊदी अरब, बाहरेन, मिस्र और संयुक्त अरब अमीरात शामिल है। जिन्होंने हर तरह से कतर से दूरी बना ली है और सभी तरह के कुटनीतिक रिश्ते तोड़ना चाहते हैं। इन सभी देशों का आरोप है कि कतर आतंक वाद को बढ़ावा देता है।

 

बता दें कि बहरेन ने कतर पर आतंकवाद का आरोप लगाने के साथ-साथ ये आरोप भी लगाया है कि वो उसके अंदरूनी मामलों में दखल देता है। इन सारे देशों ने कतर के साथ समुंद्री और हवाई नाते तोड़ने का भी ऐलान किया है। बहरेन ने कतर में रह रहे अपने लोगों को वहां से वापस आने के लिए 14 दिन का वक्त दिया है। साथ ही बहरेन ने अपने सभी मित्र राष्ट्रों और कंपनियों से अपील करते हुए कहा कि वो कतर से अपने सारे संपर्क तोड़ ले।

इसके साथ ही मिस्त्र ने भी कतर के साथ अपने सभी राजनीति संपर्क तोड़ने की बात कही है। जहां एक तरफ कतर पर ये आरोप लगा है कि वो आतंकवाद का संमर्थन करता है तो वहीं दूसरी तरफ UAE का कहना है कि कतर पूरे पश्चिम एशिया क्षेत्र की सुरक्षा को अस्थिर करना चाहता है। जबकि कतर के राजनयिकों को 48 घंटे के अंदर बाहरेन छोड़ने का वक्त दिया है।