सुदीप बंदोपाध्याय की गिरफ्तारी को लेकर टीएमसी कार्यकर्ताओं का विरोध जारी

भुवनेश्वर। तृणमूल कांग्रेस के सांसद सुदीप बंदोपाध्याय की गिरफ्तारी के विरोध में पार्टी कार्यकर्ताओं ने बुधवार को भी जमकर हंगामा किया है। टीएमसी के कार्यकर्ताओं ने आज शाम भाजपा के प्रदेश मुख्यालय पर हमला कर करीब 20 लोगों को घायल कर दिया, साथ ही भाजपा मुख्यालय पर आग लगाने की भी कोशिश की गई। इसके साथ ही आपको बता दें कि भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के कार पर हमला कर उन्हे भी चोट पहुंचाने का प्रयास किया गया है।

तृणमूल कांग्रेस संसदीय दल के नेता बंदोपाध्याय को रोज वैली ग्रुप के पोंजी घोटाले के सिलसिले में सीबीआई ने मंगलवार को कोलकाता से गिरफ्तार किया था। एजेंसी उन्हें कल देर रात ही भुवनेश्वर लेकर आयी है। इससे पहले सीबीआई ने तृणमूल के एक अन्य सांसद तापस पाल को समान आरोपों में गिरफ्तार किया था। वह तीन दिन तक सीबीआई हिरासत में रहे थे। चौथी बार लोकसभा सदस्य चुने गए और पूर्ववर्ती मनमोहन सिंह सरकार में राज्यमंत्री रहे बंदोपाध्याय को कथित रूप से विभिन्न प्रश्नों का संतोषजनक उत्तर नहीं देने और असहयोगी रवैये के आरोप में गिरफ्तार किया गया।

तृणमूल नेता की गिरफ्तारी के खिलाफ प्रदर्शन के लिए रामनगर से विधायक अखिल गिरि के नेतृत्व में एकत्र हुए पार्टी कार्यकर्ताओं ने यहां सीबीआई कार्यालय के बाहर धरना दिया। तृणमूल कांग्रेस की ओडिशा ईकाई के कई सदस्यों और प्रदेश पार्टी अध्यक्ष आर्य कुमार ज्ञानेन्द्र ने भी प्रदर्शन में हिस्सा लिया। ज्ञानेन्द्र ने कहा, सीबीआई ने सुदीप बंदोपाध्याय और तापस पाल को राजनीतिक कारणों से गिरफ्तार किया है।