असामाजिक तत्वों के नापाक इरादों को नाकाम करें: बादल

चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने सोमवार को राज्य में असामाजिक तत्वों के नापाक इरादों को नाकाम करने हेतु लोगों से एक प्रण लेने का आह्वान किया। स्वतंत्रता दिवस पर चंडीगढ़ के निकट मोहाली में राष्ट्रध्वज फहराने के बाद एक सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि कुछ विरोधी ताकतें राज्य में शांतिपूर्ण और विकासोन्मुख अनुकूल माहौल से हमेशा जलती रही हैं। उन्होंने कहा, “प्रेम, शांति और सांप्रदायिक सौहार्द्र के बंधन को मजबूत करने के अलावा एक मजबूत और समृद्ध पंजाब के निर्माण के लिए मिलकर काम करने हेतु हमलोग खुद को पुन: समर्पित करें।”

PrakaSH SINGH BADAL

राष्ट्रीय स्वतंत्रता आन्दोलन में पंजाबियों के योगदान का उल्लेख करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इस तथ्य के बावजूद यह गर्व की बात है, “देश की पूरी जनसंख्या में हमलोग केवल 2.5 प्रतिशत थे, लेकिन ब्रिटिश साम्राज्यवाद से मातृभूमि को मुक्ति दिलाने में हमने 80 फीसदी से ज्यादा बलिदान दिया।”

उन्होंने अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा, “हमारी सरकार ने शिक्षा और स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान दिया है। हमारे सतत प्रयास के कारण, हमने युवाओं को गुणवत्तापूर्ण उच्च शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए 13 नए विश्वविद्यालयों और 30 कॉलेजों की स्थापना की है।” इसी तरह स्वास्थ्य के क्षेत्र में भी कई नए कदम उठाए गए हैं।

उन्होंने कहा कि पंजाब देश का एक मात्र उर्जा अधिक्य राज्य है और उद्योग, कृषि एवं घरेलू क्षेत्र को निर्बाध विद्युत आपूर्ति करता है। अमृतसर में स्वतंत्रता दिवस समारोह की अध्यक्षता करते हुए उपमुख्यमंत्री सुखबीर बादल ने कहा कि पंजाब के लोग, खासतौर से सिख स्वतंत्रता आन्दोलन में हमेशा अग्रणी रहे थे।