छात्रों के दो गुटों में हुई मारपीट में तीन घायल : मेरठ

उत्तर प्रदेश। मेरठ कॉलेज में आज एक बार फिर वर्चस्व को लेकर दो छात्र गुटों में मारपीट हो गई, छात्रों में जमकर लाठी डाँडो के साथ गोलियां भी चली, जिसमे तीन छात्र गंभीर घायल हो गए, घायलों को उपचार के लिए नजदीकी अस्पताल भेजा दिया गया है।

आपको बता दें की मेरठ कालेज मेरठ हमेशा से ही छात्रों के झगड़ो के चलते विवादों में बना रहा है, इस कालेज में छात्र नजाने कैसे हर बार तमंचे लेकर घुस जाते है और उसके बाद मामूली सी कहां सुनी पर गोलियों चलने लगती है, आज भी यहां कुछ ऐसा ही हुआ, जहां किसी बात को लेकर दो छात्र गुटों में तनातनी हो गई और देखते ही देखते मारपीट व लाठी डाँडो के साथ गोलियां चलने लगी, गोलियों की गड़गड़हट से कॉलेज देहल गया, सूचना पर पहुंची पुलिस ने मौके पर मौजूद तीन घायल छात्रों को उपचार के जिला अस्पताल भेज दिया गया।

आरोपी मौके से फरार होने में कामयाब हो गए ,पुलिस ने अपनी छानबीन शुरू कर दी है, और आरोपियों की तलाश के साथ साथ घटना की वजह को भी तलाशने में लग गई है, बताते चले मेरठ कॉलेज एक ऐतहासिक कॉलेज है, यहां से पढ़कर चौधरी चरण सिंह पढ़कर देश के पीएम भी बने थे, इस कालजे के सामने जिले के पुलिस कप्तान की कोठी है, जबकि कमिश्नर कार्यालय के साथ एसपी देहात का बंगला भी सामने ही है, चौतरफा अधिकारियों का बसेरा होने की वजह से पुलिस सुरक्षा भी चक चौबंद रहती है, लेकिन बावजूद इसके कॉलेज में आए दिन फसाद होते रहते है, जबकि सम्बंधित थाना लालकुर्ती पुलिस के साथ साथ कोई भी अधिकारी इन घटनाओ पर किसी भी प्रकार का अंकुश लगाने में सक्षम नहीं दीखता है। ऐसे में आगे भी इस कॉलेज में झगड़ो की सम्भाना काफी बढ़ रही है, लेकिन नजाने क्यों पुलिस के आधिकारी ऐसी रूम में बैठकर ही बाइट देने के अलावा कुछ करके नहीं दिखा पते। सवाल यही आखिर इन घटनाओं पर कब लगेगा अंकुश।