पूरे गांव में उतरा हजारों वोल्ट का करेंट, 1 की मौत और 15 घायल

बलिया। बलिया में बिजली बिभाग की लापरवाही और मानकों की अनदेखी का खामियाजा आज एक पूरा गाव भुगत रहा है। संदिग्ध परिस्थितियों मे रविवार सुबह पूरे गांव हाईटेंशन करेंट उतर आया। वही घटना से अंजान अपनी दिनचर्या में व्यस्त दर्जनों से अधिक ग्रामीण बिजली के उपकरणो को छूने के चलते करंट लगने से बुरी तरह घायल हो गए। ऐसे में मोबाइल चार्ज कर रहा एक 25 वर्षीय युवक की करंट लगने से मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। इस घटना से पूरे गांव मे जबरदस्त भगदड़ मची हुई है। घटना की जानकारी पाकर आस-पास के गांवों से एकत्रित ग्रामीणों ने घायल को आनन-फानन मे जिला चिकित्सालय पहुंचाया।

वही घटना से नाराज ग्रामीणों ने मुवायजे की मांग को लेकर मृत युवक के शव को सड़क पर रखकर सड़क को जाम कर दी है। बहरहाल मौके पर पहुंची कई थानो की पुलिस फोर्स व प्रशासनिक अधिकारी नाराज ग्रामीणों को समझाने-बुझाने मे लगे हुए हैं। घटना के बाद पूरे गांव मे जबरदस्त भगदड़ तथा तनाव का माहौल बना हुआ है !

पूरा मामला गडवार थाना क्षेत्र स्थित बहादुरपुर कारी गााव का है। जहां रविवार को पूरे गांव मे हाई टेंशन करंट उतर जाने से एक दर्जन से अधिक ग्रामीण गंभीर रूप से झुलस गए। जिसमें एक 22 वर्षीय युवक की मौके पर मौत हो गई। ग्रामीाणों की मृत युवक को लेकर बिजली विभाग के खिलाफ काफी नाराजगी दिखाई दे रही है। बता दें कि हाई टेंशन तार की नीचे जाली लगाने का प्रावधान है ताकि हाई टेंशन तार के टूटने के बाद भी तार जाली पर ही रहे लेकिन रविवार की इस घटना मे जाली का कही भी अता-पता नहीं चला। जिसके चलते आज इतना बड़ा हादसा हो गया।

जिला प्रशासन के प्रतिनिधि के रूप मे मौके पर पहुंचे तहसीलदार सदर की माने तो बिजली विभाग की लापरवाही के चलते यह हादसा हुया है। जिसमें लगभग 15 लोग करेंट से झुलस गए हैं, पीड़ितों का इलाज जिला चिकित्सालय में चल रहा है। लेकिन सबसे बड़ा सवाल यह है कि इतना बड़ा हादसा होने के बाद भी कई घंटो तक मौके पर ना तो जिले का कोई भी प्रशासनिक उच्चाधिकारी पहुंचा और ना ही बिजली बिभाग का कोई अधिकारी घटनास्थल पर नजर आया।