बारिश के चलते उत्तराखंड में हुए बाढ़ जैसे हालात

हरिद्वार। देवभूमि उत्तराखंड मानसून की विदाई से आहत है, क्योंकि इस दौरान हो इस बारिश ने यहां संकट पैदा कर दिया है। ये संकट सूबे में बाढ़ के पूरे में पैदा होता दिख रहा है। लगातार हो रही बारिश से सूबे के कई जिलों में बाढ़ जैसे हालात पैदा होते जा रहे हैं। लगातार हो रही भारी बारिश से किसानों के खेतों में तो नुकसान हो ही रहा है साथ ही आम जनजीवन भी अस्त-व्यस्त हो गया है। धर्म नगरी हरिद्वार और ऋषिकेश में तो हालात बाढ़ जैसे होते जा रहे हैं।

जगह -जगह पर भारी जल भराव का सामना करना पड़ रहा है। लगातार पहाड़ों पर भारी बारिश के कारण डैम से पानी का लेवल बनाने के लिए काफी पानी के छोड़े जाने की संभावना है। क्योंकि अभी तक तो डैम से केवल 155 से 160 क्युमेक्स पानी छोड़ा जा रहा हैष लेकिन लेवल को बनाने के लिए इससे कम से कम 500 क्युमेक्स पानी छोड़ा जायेगा जिसके बाद गंगा का पानी ऋषिकेश और हरिद्वार में खतरे के निशान तक पहुंच जायेगा। इससे हरिद्वार के खादर क्षेत्र के साथ कई इलाकों में भारी नुकसान हो जायेगा।

भारी बारिश को देखते हुए उत्तराखंड में मौसम विभाग ने हाई अलर्ट घोषित किया है। कुमाऊं और गढ़वाल मंडल के 7 जिलों में विशेष चेतावनी दी गई है। इसके साथ ही कई जिलों में भी मौसम विभाग ने अपना अलर्ट जारी किया है।