मस्जिद में चोरी करने वाले चोर ने कहा ये मेरे और ऊपर वाले के बीच की बात है

नई दिल्ली। पाकिस्तान की मस्जिद में चोरी करने वाले चोर ने अपनी चोरी को बड़े ही मजाकियां अंदाज में कबूला उसने मस्जिद में करीब 50 हजार की चोरी कर वहां एक खत छोड़ दिया जिसमें उसने लिखा कि ये उसके और ऊपर वाले के बीच का मामला है। किसी को भी इसमें दखल देने की जरूरत नहीं है। ये घटना दक्षिणी पंजाब के खानेवाल जिले के जामिया मस्जिद सादीकुद मेदिना की है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक चोर ने मस्जिद से दान पेटी के दो डिब्बे और एक जोड़ी बैट्री चुरा ली है। मस्जिद के मौलाना का कहना है कि सभी चीज़े 50 हजार से ज्यादा की है।

खत में लिखा चोरी का कारण

बता दें कि चोर ने चोरी का कराण बताते हुए मस्जिद में एक खत भी छोड़ा है। जिसमें उसने लिखा कि ये मेरे और ऊपर वाले के बीच की बात है इसलिए कोई मुझे ढूढ़ने की कोशिश न करे चोर ने आगे लिखा कि मुझे पैसों की सख्त जरूरत थी और मैं मौलवी साहब के पास मदद के लिए आया था लेकिन उन्होंने मेरी मदद करने से मना कर दिया और मुझे मस्जिद से बाहर कर दिया। उसके बाद मुझे मजबूरन चोरी करनी पड़ी।

पास के लोगों ने जताई हमदर्दी

चोर ने खत में लिखा कि लोगों ने हमदर्दी तो बहुत दिखाई लेकिन किसी ने मदद नहीं की जिसके बाद मुझे मस्जिद में चोरी करने के लिए मजबूर होना पड़ा लेकिन मैंने किसी के घर में कोई चोरी नहीं की है। में सिर्फ के घर से कुछ चीज़े चुरा रहा हूं। इसलिए ये मेरे और अल्लाह के बीच का मामला है हमारे मामले में किसी को दखल नहीं देनी चाहिए। लोगों ने चोर के लिए हमदर्दी दिखाते हुए मस्जिद के मौलवी से उसे माफ कर देने को कहा है। ये कोई पहला मामला नहीं है जिसमें किसी मस्जिद में पहली बार चोरी हुई है। इससे पहले करीमन मस्जिद में चोरी करने वाले एक ऐसा ही खत मस्जिद में छोड़ कर चोरी की थी उसने भी खत में लिखा था कि जब मेरे पास पैसे आ जाएंगे तो में मस्जिद को पैसे वापास कर दूंगा।