ये प्लेयर बना आईसीसी टूर्नामेंट में 7 फाइनल खेलने वाला पहला खिलाड़ी

 

लंदन। भारत के बायें हाथ के विस्फोटक बल्लेबाज युवराज सिंह पाकिस्तान के खिलाफ रविवार को आईसीसी चैंपियंस ट्राफी के फाइनल में खेलने के साथ ही आईसीसी टूर्नामेटों में 7 फाइनल खेलने वाले पहले खिलाड़ी बन गए हैं। इतना ही नहीं युवराज ने हर मैच में अपना अच्छा प्रदर्शन ही दिया है। जिसमें उनको काफी तरीफे मिली।

बता दें कि युवराज ने आस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग और श्रीलंकाई जोड़ी कुमार संगकारा तथा माहेला जयवर्धने को पीछे छोड़ा। पोंटिंग.संगकारा तथा माहेला जयवर्धने ने 6-6 बार आईसीसी टूर्नामेंटों के फाइनल खेले थे। उसके बाद से युवराज ने और भी कई फाइनल खेले हैं।

इतना ही नहीं चैंपियंस ट्राफी के सेमीफाइनल में उतरकर 300 वनडे खेलने की उपलब्धि हासिल कर चुके युवराज ने अपने करियर की शुरुआत वर्ष 2000 में चैंपियंस ट्राफी से ही की थी। वह इस टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची भारतीय टीम के सदस्य थे। युवराज वर्ष 2002 में चैंपियंस ट्राफी में संयुक्त रूप से विजेता रही भारतीय टीम में शामिल थे।

वहीं युवराज 2003 विश्वकप के फाइनल में पहुंचकर उपविजेता रही भारतीय टीम में शामिल थे। वर्ष 2007 में पहले टी-20 विश्वकप में भारत को विजेता बनाने में युवराज की अहम भूमिका रही थी। उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ मैच में स्टुअर्ट ब्राड के एक ओवर में छह छक्के मारे थे।