हड़ताल पर जिला न्यायालय के वकील कामकाज हुआ प्रभावित

भिण्ड। मप्र उच्च न्यायालय खंडपीठ ग्वालियर में जजों के दुर्व्यवहार और असंतोषजनक रवैये के कारण उच्च न्यायालय में पैरवी करने वाले अधिवक्तागण विगत दिनों से हड़ताल पर हैं। उस हड़ताल के समर्थन में जिला न्यायालय भिण्ड के अभिभाषक भी बीते शुक्रवार को पूरे दिन हड़ताल पर रहे। उन्होंने काम काज नहीं किया, इससे न्यायालय का कार्य प्रभावित हुआ। शनिवार को भी हड़ताल जारी रहेगी। अभिभाषक संघ का कहना हैं कि जब तक उनकी मांगों को नहीं माना जाता वे कार्य पर वापस नहीं लौटेंगे।

वहीं वकीलों का कहना है कि जब तक कोर्ट के जज उनके साथ गलत व्यवहार करते रहेंगे तब तक वो अपने काम पर नहीं लौटेंगे। वकीलों का कहना है कि जज उनके साथ अच्छा व्यवहार नहीं करते हैं। जिसकी वजह से वो लोग हड़ताल पर बैठ गए हैं। उनका कहना है कि जब तक जज उनके प्रति अपना व्यवहार नहीं बदलेंगे तब तक वो काम पर नहीं लौटेंगे।

बता दें कि अभिभाषक संघ भिण्ड के अध्यक्ष नरेन्द्र चौधरी ने बताया कि शुक्रवार को अभिभाषकों ने जिला न्यायालय, राजस्व न्यायालय, उपभोक्ता फोरम, किशोर न्यायालय आदि में न्यायालयीन कार्य न करते हुए पूरे दिन हड़ताल रखी। इससे उक्त न्यायालयों के हजारों मामले बिना सुनवाई के यथा स्थिति में रहे। चौधरी ने कहा कि जजों के दुर्व्यवहार को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मुख्य न्यायाधीश मप्र उच्च न्यायालय ने अपना अडिय़ल रवैया न छोड़ते हुए वकीलों की मांग नहीं मानी तो आगे भी न्यायालयीन कार्य नहीं होने देंगे।