उत्तर कोरिया में महसूस किए गए दूसरे सबसे शक्तिशाली भूकंप के झटके, जाने कितनी थी तीव्रता

नई दिल्ली। दक्षिण कोरिया में बुधवार को 5.4 की तीव्रता के भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। हालांकि देश में भूकंप के इतने तेज झटके नहीं आते हैं। रिकॉर्ड के मुताबिक यह दूसरा सबसे शक्तिशाली भूकंप है। कोरिया मौसम विज्ञान प्रशासन का कहना है कि जलजला राजधानी सोल सहित देश के अधिकतर हिस्से में महसूस किया गया और इसका केंद्र दक्षिण पूर्वी औद्योगिक शहर पोहांग के पास नौ किलोमीटर की गहराई पर था। यह दोपहर करीब ढाई बजे आया। कोरियाई प्रायद्वीप पर आम तौर पर भूकंप के तेज झटके नहीं आते हैं।

earthquake felt north korea
earthquake felt north korea

बता दें कि भूकंपीय गतिविधियों पर करीब से निगाह रखी जा रही है क्योंकि ज़लज़ला आने पर सबसे पहला संकेत यह माना जाता है कि उत्तर कोरिया ने परमाणु परीक्षण किया है. दक्षिण कोरिया का पोहांग एक बंदरगाह शहर है और यहां पोस्को का मुख्यालय है जो देश की शीर्ष और दुनिया की चौथी सबसे बड़ी स्टील कंपनी है।

वहीं स्थानीय टीवी स्टेशनों पर भेजे गए फोटो और वीडियो फुटेज में सड़क की ढह गई दीवारें और घरों में फर्नीचर तेजी से हिलता हुआ दिख रहा है। विदेशी मीडिया के मुताबिक कोरिया हाइड्रो एंड न्यूक्लीयर पावर के अधिकारियों के हवाले से कहा कि स्थानीय परमाणु संयंत्र बिना किसी रूकावट के काम कर रहे हैं।