सीएम योगी के आदेशों की उड़ रही है धज्जियां :मेरठ

मेरठ। पहले ही बरसात मैं सड़को का ये हाल। योगी आदित्यनाथ ने यूपी में शपथ लेते ही यह वादा किया था कि 15 जून तक उत्तर प्रदेश की सभी सड़के गड्ढा मुक्त हो जाऐंगी। बारिश के कारण अभी भी सड़कों के गड्डे बढ़ेत ही जा रहे है और मुख्यमंत्री योगी के वादे समय पर पुरे नहीं हो पा रहे है।

लेकिन सड़के तो दूर की बात है, लोकल स्तर पर भी मेरठ की सड़के पानी से लबालब भरी हुई है। जहा हर बार निगम अधिकारी नालो ओर जल भराव के नाम पर योजना बनाते है ओर हर बार की तरह फैल हो जाते है। योजना के नाम पर निगम मैं पैसे ऐंठ लिए जाते है लेकिन रिजल्ट आपके सामने है। मेरठ के परतापुर क्षेत्र में सड़के गड्ढों में तब्दील हो चुकी है मेरठ नगर निगम PWD ,MDA के लापरवाह अधिकारी इस क्षेत्र को देखने तक को तैयार नहीं है। जब भी इन से बात करो तो सब एक दूसरे के पाले मैं गेंद डालते नज़र आते है।

आपको बता दे मेरठ का परता पुर क्षेत्र में मेरठ नगर निगम मैं आता है। लोग जल भराव को लेकर कई बार इस कि शिकायत कर चुके है। बच्चे और बूढ़े कई बार चोटिल हो गए है। लेकिन निगम अधिकारीयो के सर पर जूं तक नही रेंगती है। जबकि सीएम योगी का बिल्कुल साफ साफ आदेश है कि 15 जून तक उत्तर प्रदेश की समस्त सड़के हर हाल में गड्ढा मुक्त होनी चाहिए। इससे बिलकुल साफ जाहिर है कि अधिकारी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेशों की धज्जियां उड़ा रहे हैं।