दबंगों ने भरे बाजार में किया परिवार पर हमला

शाहजहांपुर। यूपी में पुलिस का खौफ बिल्कुल खत्म हो चुका है दबंग जब चाहते हैं अपनी दबंगई दिखा देते है। ताजा मामला यूपी के शाहजहांपुर का जहां सब्जी मार्केट में दबंगों ने एक परिवार पर हमला कर दिया। हमले में परिवार के चार लोग घायल हो गए। जिसमें एक युवक की मौत हो गई जबकि तीन लोग घायल है जिनको जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इस घटना में पुलिस की बङी लापरवाही सामने आई है। क्योंकि दो दिन पहले दबंगों इसी परिवार पर हमला किया था।

जब पीड़ित परिवार थाने गया तो उसे थाने से ये कहे कर भगा दिया कि वह ड्ररामेबाजी कर रहा है। हालांकि उसके बाद पुलिस ने 151 के तहत दोनों दबंगों पर कार्यवाही की थी। उस कार्यवाही के बदले पुलिस ने पीड़ित परिवार पर भी इसी धारा के तहत कार्यवाही कर दी थी। पीड़ित परिवार पर हुई कार्यवाही से दबंगों के हौसले बुलंद हो गए और जब शुक्रवार को युवक सब्जी मार्केट दुकान लगाने गया तो वहां उन्ही दबंगों ने एक बार फिर हमला कर दिया जिसमे युवक की मौत हो गई और मरते की मां एक भाई और उसकी बहन घायल हो गई। डायल 100 की भी लापरवाही कम नही दिखी। मृतक के भाई के द्वारा जब डायल 100 पर फोन किया तो उसके आधे घंटे के बाद पुलिस मौके पर पहुंची। जब तक देर हो चुकी थी।

मृतक का भाई सचिन की माने तो जब वह अपनी दुकान के पास आया तो उसको दबंग हमला करते हुए दिखे तो इतनी देर में ही उसने थाने फोन कर पुलिस को जानकारी दी लेकिन वहां से समय रहते कोई नही आया। उसके फौरन बाद जब उसने डायल 100 पर फोन किया तो सोचा कि अब पुलिस जल्दी वहां पहुच जाएगी। तब दबंग हमला कर रहे थे। जब तक उसका भाई की मौत नही हुई थी। लेकिन डायल 100 की गाड़ी भी आधे घंटे तक नही पहुची। उसके बाद जब हमलावर फरार हो गए तब उसका भाई विकास जो बहुत गंभीर रूप से घायल हो गया था। लेकिन उसकी मौत नही हुई थी। कुछ देर डायल 100 का इंतजार करने के बाद जब वह नही पहुची तो उसने रिक्शे पहले भाई को थाने ले गया उसकी बाद भी कोई पुलिस वाला थाने से बाहर निकलकर नही आया। उसके बाद वह उसे अस्पताल ले गए जहां पहुच कर उसके भाई की मौत हो गई। सचिन ने बताया कि अगर समय रहते पुलिस घटना स्थल पहुच जाती तो उसका भाई बच जाता साथ ही डायल 100 पर भी सवाल खड़ा हो गया कि आधे घंटे तक क्यों नही गाङी पहुच पाई।

घायल सचिन ने बताया कि दो दिन पहले जब वह अपनी से सब्जी मार्केट में आलू लेने जा रहा था तब मार्केट के ही यही दबंग उसके पीछे पीछे आने लगे थे इसका उसने विरोध भी किया था कि उसके पास पैसे है तुम लोग मेरे पीछे क्यों आ रहे हो। उसके बाद इन्ही दबंगों ने इस परिवार की भरे बाजार पिटाई की थी। सचिन की माने तो वह जब तहरीर लेकर थाने पहुचा तो वहां पहले तो इंसपेक्टर ने गालियां देकर भगा दिया। आरोप है कि इंस्पेक्टर वे कहा कि तुम लोग ड्ररामेबाजी कर रहे हो।

वहीं, इस मामले पर सीओ जलालाबाद सुमित शुक्ला का कहना है कि दो दिन पहले भी इन दो पक्षो में विवाद हुआ था तब दोनों पक्षों पर कारवाई करते हुए बंद भी किया था लेकिन आज आरोपी पक्ष छूटने के बाद फिर हमला कर दिया जिसमें एक की मौत हो गई तीन लोग मामूली जख्मी हो गए हैं। फिलहाल आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।