नमाज के लिए दी मुस्लिमों को छुट्टी के फैसले पर मचा बवाल

देहरादून। उत्तराखंड सरकार ने विधानसभा चुनावों से ठीक पहले मुस्लिम सरकारी कर्मचारियों को बड़ा तोहफा दिया है। अगले साल उत्तराखंड में विधानसभा के चुनाव होने हैं, ऐसे में की राज्य की रावत सरकार ने मुस्लिम सरकारी कर्मचारियों को खुश करने के लिए नया नियम लागू किया है। उत्तराखंड के सरकारी दफ्तरों में काम करने वाले मुसलमानों के लिए अच्छी खबर है।

harish-rawat

 

जिसके मुताबिक अब शुक्रवार को होने वाले नामज के लिए मुस्लिम कर्मचारियों को 90 मिनट का ब्रेक दिया जाएगा। मुख्यमंत्री हरिश रावत ने कहा है कि मुस्लिम कर्मचारियों को शुक्रवार को 12.30 मिनट से दोपहर के 2 बजे तक नमाज पढऩे के लिए काम से ब्रेक दिया जाएगा। इसके अलावा कांग्रेस सरकार ने एक अन्य फैसले के तहत दिल्ली मेट्रो रेल कारपोरेशन को विस्तृत मेट्रो परियोजना भी सौंपी है। इसके अलावा राज्य सरकार ने पाचं वर्ष के राज्य के आवश्क सेवा के लिए बने बांड के उल्लंघन करने पर 2 करोड़ और 2.5 करोड़ के जुर्मान का भी ऐलान किया है।

वहीं, बीजेपी के नलिन कोहली ने कहा, ‘हरीश रावत सरकार का यह फैसला बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। वोटों के लिए रावत सरकार किसी भी सीमा तक जाने को तैयार है, इसमें क्या लॉजिक है?’ इतना ही नहीं, नलिन ने यह भी कहा कि क्या होगा जब हिंदू सोमवार को शिव पूजा के लिए या मंगलवार को हनुमान पूजा के लिए 2 घंटे की छुट्टी मांगने लगें।