मेरठ में बना देश का पहला ई-रिक्शा चार्जिंग स्टेशन

मेरठ। देश का पहला इ रिक्शा चार्जिंग स्टेशन मेरठ में बन गया है।पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड द्वारा शुरू किये गए इस स्टेशन का उद्घाटन पीवीवीएनएल के एम् डी अभिषेक प्रकाश ने किया। नो प्रॉफिट नो लोस पर शुरू किये गए इस स्टेशन पर गरीब ई रिक्शा वालो को भी लाभ होगा पहले एक ई रिक्शा 100 रूपये में चार्ज होता था जबकि स्टेशन पर महज 60 रूपये में चार्ज होगा।

बिजली चोरी से सरकारी खजाने को लाखों की चपत लगती है, लेकिन प्रदेश में सत्ता परिवर्तन होंते ही अधिकारियों ने बिजली चोरी रोकने पूरी कोशिशे की है, और काफी हद तक बिजली चोरी पर रोक भी लगी है, इसी कड़ी में पश्चिमाचल विधुत वितरण एक और नई पहल की है। पश्चिमांचल विद्युत वितरण ने मेरठ शहर में देश का सबसे पहला ई रिक्शा चार्जिंग स्टेशन लगाया है , ये स्टेशन चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय रोड पर लगाया गया है, फिलहाल इस तरह का स्टेशन किसी और शहर में नहीं है, मेरठ से इसकी शुरुआत कर दी गई है और जल्द ही इसका विस्तार और जिलों में भी किया जाएगा।

अधिकारीयों की माने तो ई रिक्शा कहीं न कहीं चोरी की बिजली से चार्ज हुआ करते है , स्टेशन खुलने से न केवल बिभाग को फायदा होगा बल्कि गरीब ई रिक्शा वालो को भी फायदा होगा। पहले एक ई रिक्शा 100 रूपये में चार्ज होता है जबकि स्टेशन पर महज 60 रूपये में होगा, साथ ही कुछ टाइम बाद में स्टेशन से रिक्शा चार्ज करने अनिवार्य हो जाएगा, और ऐसा न करने पर रिक्शा चालकों पर कार्यवाही भी की जा सकती है, इस स्टेशन का उद्घाटन करते हुए पश्चिमांचल विद्युत वितरण के एमडी ने बताया कि इससे सरकारी राजस्व को काफी फायदा होगा।

शानू भारती