भागीरथी योजना के विरोध में हरीश रावत का अनशन, सैकड़ों लोग पहुंचे

देहरादून। भागीरथी ईको सेंसिटिव जोन का मास्टर प्लान को खत्म करने के लिये सूबे के मुखिया हरीश रावत गुरूवार को दिल्ली में धरना प्रदर्शन करेंगे। हरीश रावत और कांग्रेस के कार्यकर्ता दिल्ली के जंतर-मंतर पर धरना प्रदर्शन करने वाले हैं।

इससे पहले केन्द्र सरकार ने केंद्र सरकार ने इस मास्टर प्लान को यह कहकर समाप्त कर दिया था कि उत्तराखंड की सरकार ने अधिसूचना के अनुरूप इसे तैयार नहीं किया। जिसके कारण यह मान्य नहीं हो सकता। इसके बाद से ही सियासत में राजनीतिक ऊठापटक शुरू हो गई थी। इस मास्टर प्लान को प्रदेश विरोधी बताकर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने इनके खिलाफ सत्याग्रह आंदोलन करने का फैसला किया।

गौरतलब है कि चुनाव आचार संहिता से पूर्व हुई मंत्रिमंडल की बैठक में भी मुख्यमंत्री के इस मत का समर्थन किया है। सीएम के सहयोग में पार्टी प्रमुख किशोर उपाध्याय और अन्य कई लोग दिल्ली के लिए रवाना हो चुके हैं।