अपनी मांगो को लेकर लामबंद हुए शिक्षक

फैजाबाद। जिले के शिक्षक इन दिनों अपनी मांगो को लेकर लामबंद हो गये हैं। जिले के दूर-दराज इलाकों में पड़े शिक्षकों ने लम्बे समय से ना हो रहे स्थानांतरण की मांग को लेकर 28 दिसम्बर से बीएसए कार्यालय पर धरने पर बैठ रहे। और विधान सभा चुनाव की आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद अब इस शिक्षकों ने गिरफ्तारी देने की घोषणा की है। शिक्षकों का आरोप है कि अपनी जाये मांगों को लेकर आला अधिकारियों से बार-बार अनुरोध करने के बाद जब कोई भी कार्यवाही नहीं हुई।

तब मजबूर होकर धरना प्रदर्शन करना पड़ा जिसको लेकर बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय के सामने सभी शिक्षक धरने पर बैठे | 9 सूत्रीय मांगों में जनपद के भीतर शिक्षकों के पारस्परिक स्थांतरण, समायोजन तथा स्थानांतरण की सूची अविलंब जारी करने की मांग ,अनुसूचित जाति के शिक्षकों की पदोन्नति , प्राथमिक विद्यालय के सहायक अध्यापको की पदोन्नति ,नगर क्षेत्र के पूर्व माध्यमिक विद्यालय के प्रधान अध्यापकों की काउंसलिंग आदि की मांगे हैं।

आंदोलित शिक्षकों का कहना है कि शासन द्वारा विगत 1 वर्ष से पूर्व ही शासनादेश जारी करते हुए बेसिक शिक्षा अधिकारी व वित्त एवं लेखा अधिकारी को स्पष्ट रुप से निर्देशित किया था, लेकिन इस पर जिला शिक्षा प्रशासन ध्यान नहीं दे रहा है इसके साथ ही और कई मांगों को लेकर आज जिले के शिक्षक अनिश्चितकालीन धरने पर है । धरने पर बैठे शिक्षकों का आरोप है कि जिला शिक्षा प्रशासन द्वारा छात्रों को वर्तन और किताबें बांटने में लापरवाही भी की गई है । शिक्षक संघ ने आदर्श आचार संहिता का सम्मान करते हुए अनिश्चित कालीन धरना स्थगित कर कल गिरफ्तारी देने का निर्णय लिया है |

संजीव आजाद, संवाददाता