तांत्रिक ने खजाने के नाम पर किया नाबालिग रेप और फिर की हत्या

नई दिल्ली। अंधविश्वास इसके चक्कर में जो भी पड़ता हैं वो अपना जरुर कुछ ना कुछ नुकसान करता हैं। अंधविश्वास के चलते हमारे देश में आय दिन कोई न कोई घटना जरुर घटती हैं। अंधविश्वास के चलते इंसान अपने-पराये, सही-गलत में फर्क करना भूल जाता हैं इतना अंधा हो जाता हैं कि उसे ये भी नही दिखता कि वो किससे के साथ किससे के कहने पर क्या कर रहा हैं।

ऐसी ही दिल दहला देने वाली घटना सामने आई हैं जहां अंधविश्वास में फस रुपयों के लालच में एक मां-बाप के सामने उसकी फूल सी बच्ची के साथ हैवानियत हुई और फिर खजाने के नाम पर उसकी बली चढ़ा दी गई।

क्या हैं पूरा मामला

कन्नौज के भदौसी गांव में एक सनसनीखेज वारदात हुई हैं जहां खजाने के लालच में आकर एक मां-बाप ने अपनी फूल सी बच्ची को तांत्रिक के हवाले कर दिया। तांत्रिक ने पहले उसके साथ रेप किया फिर उसकी बलि चढ़ा दी।
दरअसल भदौसी गांव के महावीर प्रसाद 55 पेशे से सरार्फ हैं व्यापार में घाटा होने के बाद महावीर पैसों की किल्लत से जूझ रहे थे। तात्रिक कृष्णा शर्मा ने लालच दिया कि उसके घर में 5 किलो सोना गड़ा हुआ हैं और अगर वह अपनी बेटी कविता (15साल) की बलि दे देता हैं तो चन्द घंटों में उन्हें यह सोना मिल जाएगा।

खजाना मिलने की चाहत में पिता ने तांत्रिक को अपनी बेटी की बलि देने की अनुमति दे दी। आधी रात को गांव के बाहर तांत्रिक पीपल के पेड़ के नीचे तंत्र क्रियाएं करता रहा इस दौरान उसकी नियत लड़की पर खराब हो गई और उसने पिता के सामने नाबालिग को खेतों पर ले जाकर बलात्कार किया।
मां-बाप के सामने ही उसने कपड़े निकाले और मंत्र पढ़ने का ढोंग करने लगा जिसके बाद उसने कविता के साथ रेप किया और फिर गला काटकर खून इकट्ठा किया और देवी मां को चढ़ाने के बहाने वहां से आरोपी तांत्रिक निकल गया।

वहां के एएसपी केशव गोस्वामी ने बताया कि आरोपी पिता से पूछताछ के बाद पता चला हैं कि पूरे मामले में तांत्रिक का साथ उसने दिया था फिलहाल आरोपी की तलाश की जा रही हैं।