कबूतर को बिना टिकट सफर कराना कंडक्टर को पड़ा मंहगा, कार्रवाई की मांग

नई दिल्ली। तमिलनाडु में एक कबूतर के बिना टिकट सफर करने पर स्टेट ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन ने बस कंडक्टर के उपर कार्रवाई करने का फैसला लिया है। दरअसल एक कबूतर ने बस में बिना टिकट खिड़की में बैठकर सफर कर रहा था। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक कबूतर बीते गुरुवार शाम सरकारी बस इल्लावडी से हारुर टाउन (जनजातीय इलाका) जा रही थी। बस में 80 से ज्यादा यात्री सवार थे। जब यह हारुर टाउन के पास पहुंची तो ट्रांसपॉर्ट डिपार्टमेंट के इंसपेक्टर्स ने बस में मौजूद यात्रियों के टिकट चेक किए तो उसी वक्त बस में अधिकारियों ने नशे में धुत एक यात्री देखा। जिसके पास एक कबूतर था। वह उस कबूतर से बात कर रहा था।

 tamil nadu, state, transport corporation, action, bus conductor, pigeon
tamil nadu state transport corporation

बता दें कि कबूतर को देखने बाद अधिकारियों ने बस कंडक्टर से कबूतर के टिकट को लेकर सवाल किया। कंडक्टर ने मना कर दिया। अधिकारी का कहना है कि तमिलनाडू में पशुओं और पक्षियों के लिए भी टिकट लिए जाने का नियम है। बस कंडक्टर ने जवाब दिया कि जब यह मुसाफिर बस में चढ़ा, उस वक्त उसके पास कबूतर नहीं था, लेकिन कंडक्टर के इस जवाब से असंतुष्ट होकर अधिकारियों ने उसे मेमो जारी कर दिया।

वहीं तमिलनाडू में सरकारी बसों में पशुओं और पक्षियों के लिए भी टिकट लिए जाने का नियम है। ट्रांसपॉर्ट डिपार्टमेंट के नियम का हवाला देते हुए अधिकारियों ने बताया कि जब कोई व्यक्ति 30 से अधिक कबूतर को लेकर सफर कर रहा हो उसे कुल किराये का चौथाई हिस्सा देकर टिकट लेना जरूरी होता है, लेकिन यह नियम उस व्यक्ति के लिए नहीं है अगर उसके पास एक ही कबूतर हो। टीएनएसटीसी (सलेम डिविजन) के वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि इस मामले पर उनकी नजर है। वह इंसपेक्टर के मेमो का इंतजार कर रहे हैं। इंसपेक्टर सोमवार को मेमो पेश करेंगे। यदि कानून का उल्लंघन हुआ है तो जरूर ऐक्शन लिया जाएगा।