सुषमा स्वराज और रेक्स टिलरसन के बीच वीजा H1B को लेकर हुई चर्चा

नई दिल्ली। अमेरिका में संयुक्त राष्ट्र संघ की बैठक में हिस्सा लेने गईं भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने बीते शुक्रवार को अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन से मुलाकात की इस दौरान दोनों नेताओं में एक दूसरे के देशों में आपसी सहयोग और मित्रता को लेकर लम्बी चर्चा भी की। इसके साथ ही साझा व्यापार से लेकर द्विपक्षीय रिश्तों को और भी मजबूत करने के अलावा व्यापारिक रिश्तों को बढ़ाने की बात भी की गई। सुषमा स्वराज ने लम्बे समय से एच वन बी बीजा को लेकर भी विदेश मंत्री टिलरसन से बात चीत की।

हांलाकि ये मुलाकात उस वक्त हुई है जब ट्रंप प्रशासन अमेरिका में एचवन बी वीजा की समीक्षा करने में लगा हुई है। इसका व्यापक असर यहां पर रहने या यहां पर नौकरी करने वाले भारतीयों पर पड़ना संभव है। क्योंकि अमेरिकी प्रशासन का मानना है कि कंपनियां यहां पर मौजूद अमेरिकी श्रमिकों के बजाय बाहर से श्रमिकों को लाने में इस नीति का दुर्पयोग कर रही हैं। अगर इसमें मौजूद प्रावधानों को अमेरिका खत्म कर देता है तो लाखों की संख्या में भारतीय अमेरिका में बेरोजगार हो जायेंगे। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने इस बारे में अमेरिका में ट्रंप प्रसाशन के विदेश मंत्री टिलसर ने विस्तार से चर्चा करते हुए इस मसले का सकारात्मक हल निकालने का अनुरोध किया है।

इसके साथ ही सुषमा और टिलरसन के बीच आगामी 28 से 30 नवम्बर के बीच हैदराबाद में होने वाले ग्लोबल एंट्रप्रन्योरशिप समिट पर भी चर्चा हुई। इस समिट की मेजबानी भारत और अमेरिका संयुक्त रूप से कर रहा है। इसके साथ ही स्वराज और टिलसन ने कई मुद्दों पर अपने साझा विचार रखें जैसे आपसी व्यापार के साथ आस-पड़ोस और भारत के साथ प्रशांत क्षेत्र की स्थिति की भी चर्चा इन दोनों नेताओं की मुलाकात के दौरान हुई।