छेड़छाड़ से परेशान IAS की तैयारी कर रही छात्रा ने खुद को घर में किया क़ैद 

एंटी रोमियो दस्ते ने सड़क किनारे लड़कियों पर छींटाकशीं करने वाले मजंनुओं पर तो नकेल कस दी है, लेकिन गली-मुहल्लों और घरों में घुसकर दबंगई दिखाने वाले दबंगों के खिलाफ चुप है। ताजा मामला मेरठ के कंकरखेड़ा इलाके का है। जहाँ छेड़छाड़ से परेशान IAS की तैयारी कर रही छात्रा ने खुद को घर में कैद कर लिया। लेकिन दबंगों का हौसला देखिये। दबंगो ने घर में घुसकर छात्रा के साथ केवल छेड़छाड़ ही नही की, बल्कि छात्रा को दिनदहाड़े उसके घर से उठाने की कोशिश की।
दबंगो के विरोध में जब घरवाले सामने आये तो दबंगो ने उन्ही के घर में उनकी पिटाई कर दी। पुलिस के नाकारापन और दबंगो की गुंडई के ये कोरे आरोप नही है वही आप दबंगो की पहुच का अंदाज़ा इस बात से लगा सकते है की दबंगो से फैसला करने के लिए कैंन्ट विधानसभा से बीएसपी के टिकेट पर चुनाव लड़े नेता जी भी छात्रा पर फैसले का दबाव बना रहे है वही जब छात्रा को पुलिस से इंसाफ नहीं मिला तो छात्रा के परिजनों ने अबकी बार दबंगई करने आये युवको का वीडियो अपने मोबाइल में क़ैद कर लिया
छात्रा ने इस दौरान जब विरोध किया तो दबंग लड़की के भाई को घर से बाहर खींच ले गये और उसे गिरा-गिराकर मारा। हैरत की बात तो ये है कि योगीराज में कानून का राज होने का दावा करने वाली मेरठ की पुलिस ने इस मामले में पीड़ित छात्रा की तहरीर लेकर ठंडे बस्ते में डाल दी और कोई कार्रवाई नही की। पुलिस ने इस मामले में दबंगो के खिलाफ केस तक दर्ज नही किया है। पीड़ित छात्रा के साथ यह कोई नई वारदात नही है। करीब डेढ़ साल पहले इन्हीं दबंगो ने छात्रा के साथ सरेआम छेड़छाड़ की थी, लेकिन पुलिस ने उस वक्त भी कोई कार्रवाई नही की। दबंगो की मनमानी के चलते छात्रा अपनी पढ़ाई भी छोड़ चुकी है और घर में रहकर IAS की तैयारी कर रही है।
 -शानू भारती