ऑपरेशन ब्लू स्टार की बरसी कड़े हुए सुरक्षा के इंतजाम

अमृतसर। ऑपरेशन ब्लू स्टार की बरसी के मौके पर पंजाब में एक बार फिर जहां गरमपंथी सक्रिय हो गये हैं। सूबे में किसी अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए अमृतसर में अर्द्ध सैनिक बलों तैनात किया गया है।अमृतसर स्वर्ण मंदिर व आसपास के इलाकों में पुलिस ने नाकाबंदी कर दी है। बाहर से आने वाले प्रत्येक व्यक्ति की तलाशी ली जा रही है। इसके साथ-साथ इस बार महिला अर्द्ध सैनिक बलों को भी तैनात किया गया है।

ऑपरेशन ब्लू स्टार की बरसी के अवसर पर दरबार साहिब में होने वाले कार्यक्रमों को लेकर एसजीपीसी भी पूरी तरह से सक्रिय हो गई है। दरबार साहिब में मीडिया की सीधी एंट्री पर भी बैन कर दिया गया है। सुरक्षा के लिहाज से पुलिस कर्मियों को सादे कपड़ों में भी तैनात किया गया है। एस.जी.पी.सी. के प्रमुख प्रो.कृपाल सिंह बडूंगर ने संगत से अपील की है कि सचखंड हरिमंदिर साहिब, अकाल तखत साहिब समेत प्रत्येक गुरुद्वारा साहिब में घल्लूघारा दिवस मनाया जाए। सभी गुरुद्वारा साहिबान में 4 जून को शहीदों की याद में अखंड पाठ रखा जाएगा। गुरुद्वारा साहिबान और श्री अकाल तख्त साहिब पर इस संबंधित शहीद सिख बच्चों और बड़ों की याद में 6 जून को भोग डाले जाएंगे।

श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी गुरबचन सिंह ने सिख कौम के नाम जारी संदेश में कहा है कि श्री अकाल तख्त साहिब पर 6 जून को समागम के दौरान शहीदों को श्रद्धा के फूल भेंट करने के लिए पूरा माहौल वैरागयमयी और शांतमयी होना चाहिए। इसलिए कोई भी सिख संगठन गुरु महाराज की हजूरी में बोलकर मर्यादा न तोड़े और मर्यादा कायम रखे।