PMCH में जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल, POD प्रभावित

पटना। सूबे के सबसे बड़े अस्पताल पीएमसीएच में जूनियर डॉक्टरों ने हड़ताल कर दी है। जूनियर डॉक्टरों ने मंगलवार को छात्रों पर हुए लाठीचार्ज के विरोद में हड़ताल करने का फैसला किया है। जूनियर डॉक्टरों का आरोप है कि पुलिस ने पीजी एडमिशन की आउंसेलिंग के दौरान मेडिकल छात्रों पर जमकर लाठियां भांजी थी। पुलिस की लाठिचार्ज में कई छात्रों को गंभीर चोटें आई थी। जिसके बाद जूनियर डॉक्टरों ने 24 घंटे के लिए कार्य बहिष्कार कर दिया है।


जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल के बाद सुबह से अभी तक 6 लोगों की मौत हो गई है। हालांकि प्रबंधक इसकी वजह हड़ताल को नहीं मान रहा है। वही हड़ताल से पूरे अस्पताल में अफरा तफरी का माहौल बना हुआ है। ऐसे में अस्पताल अधिक्षक का कहना है कि एमरजेंसी वार्ड में सीनियर डॉक्टरों को कमान सौंप दी गई है। एमरजेंसी सेवा के लिए पीएमसीएच में 14 डॉक्टर पहुंच चुके हैं। अस्पताल प्रबंधन ने एमरजेंसी के लिए 50 डॉक्टरों की मांग की है।