शाहरूख की इस फिल्म पर चल सकती है सेंसर बोर्ड की कैंची

मुंबई। प्रकाश झा की कंपनी में बनी फिल्म लिपिस्टक अंडर माई बुर्का को लेकर सख्त रहा सेंसर बोर्ड अब शाहरुख खान की आने वाली नई फिल्म जब हैरी मीट सेजल को लेकर सख्त रवैया अपना रहा है। जानकारी के अनुसार, फिल्म के हालिया रिलीज मिनी ट्रेलर में सेंसर बोर्ड ने इंटरकोर्स शब्द को अश्लील मानते हुए इसे हटाने का आदेश दिया था।

बता दें कि सेंसर बोर्ड के एक अधिकारी के मुताबिक, इस बदलाव के बाद फिल्म की टीम ने सेंसर के लिए फिल्म के ट्रेलर को नहीं भेजा और सोशल मीडिया पर रिलीज कर दिया। कानून के मुताबिक, इंटरनेट पर लांच करने के लिए सेंसर बोर्ड की अनुमति की जरूरत नहीं होती, लेकिन थिएटरों में इसे दिखाए जाने के लिए सेंसर सार्टिफिकेट की जरूरत होती है। अब तक खबर रही कि इस फिल्म का ट्रेलर सलमान खान की फिल्म ट्यूबलाइट के साथ जोड़ा जा रहा है, जबकि सेंसर बोर्ड का कहना है कि इस फिल्म के ट्रेलर को अभी तक सेंसर की अनुमति नहीं दी गई है।

साथ ही सेंसर बोर्ड का कहना है कि फिल्म के ट्रेलर को इस शर्त के साथ यू\ए सार्टिफिकेट जारी किया गया था कि वे सेंसर के आदेश का पालन करते हुए इंटरकोर्स शब्द को हटाएंगे। अगर ऐसा बदलाव नहीं किया गया, तो फिल्म के ट्रेलर के रिलीज को गैरकानूनी माना जाएगा। आगामी 4 अगस्त को रिलीज होने वाली इस फिल्म की टीम ने सेंसर बोर्ड के रुख पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।