अब सिर्फ ढाई घंटे में तय होगी लंदन से न्यूयॉर्क की दूरी

नई दिल्ली। सिर्फ ढाई घंटे में अब लंदन से न्यूयॉर्क तक का सफर तय होगा जल्द ही बिजनेस और फर्स्ट क्लास पैसेंजर्स के लिए ये खुशखबरी आएगी 2.5 घंटे के भीतर सुपरसोनिक कामर्शियल एयरप्लेन के जरिए लंदन से न्यूयॉर्क की दूरी तय कर लेंगे। यानि लंदन से न्यूयॉर्क पहुंचने में फिल्म लार्ड ऑफ द रिंग देखने से भी कम समय लगेगा। ऐसा दावा एक स्टार्टअप कंपनी ने किया हैं बूम नाम की एयरोस्पेस कंपनी ने यह दावा किया है। कंपनी के अधिकारियों ने पेरिय एयर शो के दौरान यह बताया कि अगर कंपनी ने सर्टिफिकेट संबंधी प्रोसेस और समस्याओं का निपटारा कर लिया तो लोगों के लिए अगले 6 सालों के अंदर ये मुमकिन है।

हमारे प्लेन के जरिए लंदन और न्यूयॉर्क की दूरी बेहद घट जाएगी कंपनी सैन फ्रैंसिस्कों से टोक्यो के बीच भी यात्रा के समय को कम करने की प्लानिंग कर रही हैं। कंपनी लक्ष्य बनाकर चल रही हैं कि इन दो शहरों के बीच 11 घंटे के सफर को 5.5 घंटे में पूरा किया जाए इसी तरह लॉस एंजिलिस से सिडनी के बीच 15 के बजाए 7 घंटे में ही पैसेंजर्स की यात्रा पूरी हो जाए बूम को पांच एयरलाइंस कंपनिया पहले ही सुपरसॉनिक यात्री को एयरलाइन के लिए 70 से ज्यादा ऑर्डर कर चुकी हैं।

वर्जिन कंपनी 76 एयरक्राफ्ट रिजर्व कराने के साथ-साथ 10 प्लेन बुक करा चुकी है चार अन्य एयरलाइनों की भी आने वाले दिनों में घोषणा कर दी जाएगी हांलाकि कुछ विशेषज्ञों को संदेह है कि बूम अपने लक्ष्यों पर खरा उतर पाएगा 2003 में यूरोपीय विमान कंपनी कॉनकॉर्ड ने अपनी ट्रान्साटलांटिक सुपरसॉनिक उड़ान को फाइनेंश्ियल दिक्कतों से बंद कर दिया था 20,000 यूएस डॉलर के किराए के साथ उड़ान भरने वाले इस विमान की पेशकश काफी कम यात्रियों को ही अपील कर पाई थी वहीं विशेषज्ञों का मानना है कि फ्यूल इकनॉमी चुनौती पूर्ण तकनीकी रुट टाइमिंग और सुपरसॉनिक कमर्शियल उड़ानों के खिलाफ मौजूदा नियम बूम के लिए बाधा बन सकती हैं।