अस्पताल से चोरी हुई बच्ची का 24 घंटे बाद भी नहीं मिला सुराग

मथुरा। थाना कोतवाली वृन्दावन क्षेत्र के एक अस्पताल से शनिवार को चोरी हुई नवजात बच्ची का दूसरे दिन भी सुराग नहीं लगने पर उसकी मां की तबीयत बिगड़ गई। परिवारजन रविवार को महिला को लेकर अस्पताल पहुंचे तो गार्ड ने उन्हें अंदर नहीं जाने दिया। इस पर लोग भड़क गए और गार्ड के साथ धक्कामुक्की की और गेट का शीशा तोड़ दिया। परिवारजन अस्पताल प्रबंध की लापरवाही के कारण बच्ची चोरी होने का आरोप लगा रहे थे।

बता दें कि गांव देवी आटस निवासी कमल की पत्नी ममतेश की तीन दिन की बच्ची को शनिवार को एक महिला अस्पताल से चोरी कर ले गई। 24 घंटे से अधिक बीतने के बाद भी बच्ची की बरामदगी न होने पर गांव में रोष फैल गया। बच्ची के खोने के गम में रविवार सुबह बच्चे की मां की भी तबियत बिगड़ गई।

baby

परिवारजन और गांव वाले उसे लेकर अस्पताल पहुंचे। गार्ड ने उन्हें रोका तो लोगों ने हंगामा करते हुए अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी की। सूचना पर पहुंची पुलिस ने लोगों को भरोसा दिलाया कि मुकदमा दर्ज कर बच्ची की बरामदगी के प्रयास किए जा रहे हैं।

पुलिस ने खंगाले अनाथालय, रेलवे स्टेशन

बच्ची की बरामदगी के लिए पुलिस की टीमों ने रेलवे स्टेशन, बसस्टैंड और मथुरा, वृंदावन के कई अनाथालयों में पड़ताल कर नवजात बच्चों की जानकारी जुटाई। जिले के प्रमुख मंदिरों के आसपास भीख मांगने वाली महिलाओं और उनके पास बच्चों की भी जानकारी जुटाई। मुखबिर तंत्र और गांवों के चौकीदारों को भी सक्रिय दिया है फिर भी सफलता नहीं मिली है

rp_anshul-sharma_mathura अंशुल शर्मा, संवाददाता