OMG!! इस ट्रेन ने किया विमान को भी फेल…

नई दिल्ली। सभी ट्रेनो को पीछे छो़ड़ तेज रफ्तार के साथ विमान जैसी अत्याधुनिक सुविधाओं वाली पहली तेजस ट्रेन 22 मई को मुंबई से गोवा के बीच चलेगी। इसकी पहली रेक का रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने शुक्रवार को यहां निरीक्षण किया।

कपूरथला कोच फैक्ट्री में तैयार इस रेक को मुंबई-गोवा के बीच अपनी उद्घाटन यात्रा के लिए जालंधर से मुंबई भेजा गया है। मीडीया को दिखाने के लिए खास तौर पर इसे दिल्ली में रोका गया। इस दौरान रेलवे बोर्ड के चेयरमैन व कुछ सदस्यों के अलावा उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक आरके कुलश्रेष्ठ भी मौजूद थे।

तेजस एक सेमी हाईस्पीड लक्जरी ट्रेन है। जिसकी स्पीड 200 किमी हैं लेकिन ट्रेक के लायक न होने के कारण फिलहाल इसकी स्पीड 160 किमी हैं। 200 किमी रफ्तार देने के लिए इसमें स्टील की ब्रेक डिस्क, सिंटर्ड पैड, इलेक्ट्रो-न्यूमैटिक असिस्ट ब्रेक सिस्टम जैसी खास किस्म की प्रणालियां अपनाई गई हैं। इतना ही नही इसमें विमानो जैसी खास सुविधा भी होगी।

पहली तेजस ट्रेन में कुल 19 कोच होंगे जिनमें पावरकार के अलावा एक्जिक्यूटिव क्लास के दो कोच तथा सामान्य एसी चेयरकार के 16 कोच शामिल हैं। दो एक्जिक्यूटिव कोच में से एक कोच को आगे चलकर अतिरिक्त सुविधाओं के साथ ‘स्मार्ट कोच में परिवर्तित करने की योजना है।

तेजस ट्रेन की विशेषताए….
मेट्रो जैसे ऑटोमैटिक डोर
बायो वैक्यूम टायलेट
फायर-स्मोक डिटेक्शन
सप्रेशन सिस्टम
सीटे खास लेदर की
टचस्क्रीन कंट्रोल वाले एलईडी टीवी की व्यवस्था
सेंसर युक्त टचलेस वॉटर टेप व सोप डिस्पेंसर
हैंड ड्रायर नई डिजाइन के डस्टबिन,
सुरक्षा के लिए सीसीटीवी, कॉल बेल, डिजिटल डेस्टिनेशन बोर्ड व जीपीएस
पैसेंजर इंफारमेशन डिस्प्ले सिस्टम,
इंटीग्रेटेड ब्रेल डिस्प्ले,
स्नैक टेबल, यूएसबी बेस्ड चार्जिंग के अलावा एक्जिक्यूटिव क्लॉस में गैस स्प्रिंग
टीवी व कॅाफी वेंडिग मशीन
पढ़ने के लिए पत्र-पत्रिकाओं की सुविधा।

 

 सृष्टि विश्वकर्मा….