सपा एमएलसी की गुंडागर्दी, मेडिकल स्टाफ के साथ की मारपीट

शाहजहांपुर। सत्ता जाने के बाद भी सपा विधायकों की दबंगई रुकने का नाम नहीं ले रही है। ताजा मामला यूपी के शाहजहांपुर का है जहां सपा एमएलसी संजय मिश्रा ने जिला अस्पताल में मेडिकल स्टाफ के साथ मारपीट की और जमकर हंगामा काटा। मेडिकल स्टाफ पिटाई से नाराज कर्मचारियों ने इसके बाद सपा एमएलसी के समर्थक की जमकर पिटाई कर दी। हंगामा इतना ज्यादा बढ़ गया कि मौके पर पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारियों को पहुंचना पड़ा। सपा एमएलसी संजय मिश्रा इससे पहले भी कई लोगों के साथ मारपीट कर चुके हैं। फिलहाल मेडिकल स्टाफ ने सपा विधायक के खिलाफ कार्यवाही ना होने पर हड़ताल की धमकी दी है।

घटना कोतवाली इलाके के जिला अस्पताल की है जहां शिक्षक एमएलसी संजय मिश्रा अपने साथियों के साथ जिला अस्पताल पहुंचे। यहां वह अपने एक मरीज से मिलने आए थे। इसके बाद वह स्टाफ नर्स पवन कुमारी और संदेश वर्मा से भिड़ गए इतना ही नहीं एमएलसी संजय मिश्रा ने नर्स और स्टाफ के साथ मारपीट की। विधायक का आरोप है कि अस्पताल का स्टाफ मरीजों को बाहर से महंगी दवाई मंगवाता है और मोटा कमीशन लेता है। इसी बात से नाराज विधायक ने स्टाफ नर्स और कर्मचारियों से मारपीट की। मेडिकल स्टाफ से मारपीट करने के बाद शिक्षा विधायक मौके से फरार हो गए लेकिन इसी बीच विधायक का समर्थक मेडिकल स्टाफ के हत्थे चढ़ गया जिसकी बाद में मेडिकल स्टाफ ने मिलकर जमकर पिटाई की। हंगामा इतना ज्यादा बढ़ गया की मौके पर एसपी सिटी और सिटी मजिस्ट्रेट को पहुंचकर हालात को काबू में करना पड़ा। मेडिकल स्टाफ ने धमकी दी है कि अगर सपा एमएलसी के खिलाफ मुकदमा दर्ज नहीं किया गया तो वह कल से हड़ताल शुरू कर देंगे। वहीं पुलिस आरोपी एमएलसी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर रही है।

स्टाफ नर्स पवन कुमारी ने बताया कि उनकी और संदेश वर्मा की ड्यूटी थी। अचानक सपा एमएलसी संजय मिश्रा अपने मरीज को देखने आए। उनका मरीज हरदोई का रहने वाला है। सपा एमएलसी संजय मिश्रा स्टाफ नर्स पवन कुमारी ओर संदेश वर्मा से बदसलूकी करने लगे। और आरोप लगाने लगे कि उसके मरीज की देख भाल ठीक नही हो रही है इसके बाद वह नौकरी से निकलवा देने की धमकी देने लगे। जब उनका विरोध किया तो सपा एमएलसी संजय मिश्रा ने अपने साथियों के साथ उनकी जमकर पिटाई करना शुरू कर दी। पिटाई करने के बाद वहां अस्पताल के बाहर आने लगे। इधर जब अस्पताल के और कर्मचारियों को सुचना मिली तो उन लोगों को सपा एमएलसी को अस्पताल गेट पर रोक लिया और हंगामा होने लगा। इतने मे मोका पाकर सपा एमएलसी मौके से फरार हो गए। अस्पताल स्टाफ का कहना है कि अगर सपा एमएलसी के खिलाफ कोई कार्यवाही नही होती है तो कल से अस्पताल मे को काम नही होगा।

जिस वक्त अस्पताल स्टाफ और सपा एमएलसी संजय मिश्रा के बीच नोक झोंक हो रही थी। उस वक्त वहां पर पुलिस पहुंच चुकी थी। लेकिन जब सपा एमएलसी ने अपनी न चलती देख कर वहां से खिसकने मे ही भलाई समझी और वहां से चले गए। लेकिन सपा विधायक का एक गुर्गों अस्पताल स्टाफ और भीड़ के हत्थे चङ गया। सपा एमएलसी का गुरगा डाक्टरों पर पैसे लेने का आरोप लगा रहा था जिस बाद गुस्साए अस्पताल स्टाफ औद भीङ ने उस गुर्गे को दौङा दौङा कर पीटना शुरू कर दिया। हालांकि पुलिस वहां पर मौजूद थी लेकिन उस शख्स को पीटने से पुलिस बचा नही पाई। जिसके बाद कोई मशक्कत के बाद उस गुर्गे को पुलिस ने अपनी हिरासत में लिया और थाने भेजा।

आरोपी सपा एमएलसी संजय मिश्रा का कहना है कि अस्पताल मे जमकर भ्रष्टाचार होता है। गरीब मरीजों को यहां लूटा जाता है महंगी दवाएं बाहर के लिखकर गरीबो से मंगवाई जाती है। उसका उन्होंने विरोध किया था। लेकिन उन्होंने किसी के साथ मारपीट नही की। सभी लोग गलत आरोप लगा रहे है। एसपी सिटी कमल किशोर का कहना है का सपा एमएलसी संजय मिश्रा पर स्टाफ नर्स ने मारपीट का आरोप लगया है। जिसके बाद अस्पताल मे अफरातफरी का माहौल हो गया था। अस्पताल प्रशासन की तरफ से जैसी ही तहरीर मिलती है उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

 -अभिषेक चौहान