सपा में सियासी घमासानः कांग्रेस का गठबंधन से इनकार नहीं

लखनऊ। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने सपा में टिकट बंटवारे को लेकर मचे घमासान के बीच विधानसभा चुनाव में गठबंधन की संभावनाओं पर शुक्रवार को कहा कि राजनीति में किसी संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता। आजाद यहां जनाक्रोश रैली में हिस्सा लेने आये थे। उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के बागी तेवर और कांग्रेस से गठबंधन पर कहा, राजनीति सम्भावनाओं का खेल है। राजनीति में किसी सम्भावना से इंकार नहीं किया जा सकता।

उल्लेखनीय है कि अखिलेश यादव ने पिछले दिनों कांग्रेस से गठजोड के बारे में किये गये सवाल के जवाब में कहा था कि यदि गठजोड़ होता है तो सपा 300 से अधिक सीटों पर जीत दर्ज करेगी। हालांकि सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव ने गठजोड़ की किसी भी संभावना से साफ इंकार किया है। उन्होंने कहा कि पिछले विधानसभा और इस बार के विधानसभा चुनाव में काफी फर्क है, क्योंकि पिछली बार सपा और बसपा के बीच मुख्य मुकाबला था लेकिन इस बार भाजपा और कांग्रेस बराबर लड़ाई में हैं।

आजाद कांग्रेस के उत्तर प्रदेश प्रभारी भी हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी तोड़फोड़ और फायदे के लिये राजनीति नहीं करती है। यह काम भाजपा और बसपा करती है। भाजपा और बसपा तोड़ने और मारने की राजनीति करती है। उन्होंने सपा में चल रहे घमासान पर संवाददाताओं से कहा, समाजवादी पार्टी में चल रहा घमासान ड्रामा नहीं है। यह पिछले कई महीने से चल रहा है। आजाद ने पिछले दिनों दिवंगत हुये मशहूर शायर और कांग्रेस के पूर्व सांसद बेकल उत्साही के घर जाकर उनके परिजनों से मुलाकात की और उन्हें सांत्वना दी।