हॉकी विश्व कप में क्वालिफाई नहीं कर पाई दक्षिण कोरिया की टीम, चीन ने मारी बाजी

लुसाने। भारत में अगले साल होने वाले हॉकी विश्व कप के लिए चीन ने क्वालीफाई कर लिया है,वहीं दक्षिण कोरिया ऐसा करने में विफल साबित हो गया  है। दरअसल ढाका में चल रहे एशिया हॉकी कप में मलेशिया और दक्षिण कोरिया के बीच खेले गए सेमिफाइनल मुकाबले में  मलेशिया और दक्षिण कोरिया के बीच मैच 1-1 से ड्रा होते ही चीन ने विश्व कप के लिए क्वावीफाई कर लिया। वहीं अब एशिया कप के फाइनल मुकाबले में मलेशिया की टीम भारतीय टीम से भिडे़गी।

गौरतलब है कि साल 1998 में हुए विश्व कप के बाद ये पहला मौका है जब दक्षिण कोरिया की टीम हॉकी के सबसे बड़े टूर्नामेंटों में से एक विश्व कप में प्रवेश नहीं कर पाई। बता दें कि विश्व कप में क्वालीफाई करने के लिए दक्षिण कोरिया को एशिया कप का खिताब जीतना था, लेकिन मलेशिया के साथ खेला गया सेमिफाइलन मैच ड्रा होने से टीम के लिए विश्व कप में जाने के सारे रास्ते बंद हो गए।  विश्व कप के लिए मेजबान के तौर पर भारत और लंदन मे खेली गई हीरो हाकी विश्व लीग के सेमीफाइनल में चौथे स्थान पर रह कर मलेशिया ने पहले ही विश्व कप में जगह पक्की कर ली है। इस टूर्नामेंट में चीन आठवें और कोरिया नौवें स्थान पर रहा था।

चीन 16 देशों के विश्व कप में जगह बनाने वाला 15वां देश है, जिससे वो मेजबान भारत, अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, बेल्जियम, कनाडा, इंग्लैंड, जर्मनी, आयरलैंड, मलेशिया, नीदरलैंड, न्यूजीलैंड, पाकिस्तान, स्पेन और फ्रांस के साथ क्वालीफाई करने में सफल रहा।  विश्व कप के लिए 16वीं टीम का चयन मिस्र में 22 से 29 अक्तूबर तक खेले जाने वाले अफ्रीका कप आफ नेशन्स टूर्नामेंट से तय होगा।