उत्तर प्रदेश पुलिस के काम को ट्विट इंडिया ने सराहा, दिया पुरस्कार

लखनऊ। आजकल के नए जमाने में लोग थाने जाकर शिकायतें दर्ज कराने की बजाय सोशल मीडिया के जरिए शिकायतें ज्यादा करते हैं। ट्विटर के जरिए लोगों की शिकयातों सुनने और निस्तारण करने में यूपी पुलिस सबसे आगे रही है। जिसे ट्विटर इंडिया की ओर से सराहा गया है।

ट्विटर इंडिया ने यूपी पुलिस को सोशल मीडिया एम्पावरमेंट अवार्ड मिला है। साल 2016 के सितम्बर माह में उत्तर प्रदेश पुलिस के तेजतर्रार आफिसर राहुल श्रीवास्तव के प्रस्ताव पर तत्कालीन पुलिस महानिदेशक जावीद अहमद ने यूपी पुलिस का ट्विटर एकाउण्ट शुरू कराया।

पुलिस मुख्यालय में बैठने वाले पीआरओ राहुल श्रीवास्तव और उनकी टीम इस ट्विटर एकाउण्ट को हैंडिल करती रही और बीते आठ माह में लाखों लोगों का इस टीम ने ट्विट के माध्यम से जवाब दिया है। इसके साथ ही हजारों लोगों के मामलों को यूपी पुलिस ने रिट्विट कर निस्तारण कराया है।

ट्विटर इंडिया ने यूपी पुलिस को एकाउण्ट के माध्यम से आम लोगों को मदद पहुंचाने और सोशल मीडिया पर इसका चलन बढ़ाने पर सोशल मीडिया एम्पावरमेंट अवार्ड 2017 के लिए चुना और पुलिस विभाग की तरफ से राहुल श्रीवास्तव को पुरस्कार सौंपकर सम्मानित किया।

बता दें कि यूपी पुलिस के ट्विटर एकाउण्ट के इस समय एक लाख पचास हजार से अधिक फालोअर्स हैं और इससे देश-दुनिया के प्रबुद्ध, व्यावसायी, शैक्षणिक, प्रशासनिक इत्यादि क्षेत्रों के लोग जुड़े हुए है।