एसएमएस अस्पताल में हुआ लीवर का सफल ट्रांसप्लांट

जयपुर। प्रदेश के सबसे बड़े एसएमएस अस्पताल ने शनिवार सुबह पहली बार लीवर का सफलतापूर्वक ट्रांसप्लांट हुआ। डोनर के दिल का दिल्ली में ट्रांसप्लांट किया जाएगा। दिल को विमान से आज तडके दिल्ली भेजा गया। उल्लेखनीय है कि कोटपूतली के ललाना गांव निवासी डोनर दीपक मौत के बाद चार जिंदगियों को रोशन कर गया। दीपक के परिजनों ने लीवर और दिल के अलावा दोनों किडनी भी दान की थी। दो मरीजों का किडनी ट्रांसप्लांट ऑपरेशन भी आज एसएमएस अस्पताल में होना है।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री कालीचरण सराफ ने इस उपलब्धि के लिए एसएमएस मेडिकल कॉलेज और एम्स दिल्ली से आए चिकित्सकों को बधाई दी है। एसएमएस अस्पताल के वरिष्ठ चिकित्सकों ने बताया कि डोनर के लीवर और मरीज की विभिन्न जांचें देर रात तक होती रही, वहीं किसी भी अनहोनी के लिए हवाई मार्ग से लीवर ट्रांसप्लांट के लिए नई दिल्ली के इंस्टीट्यूट ऑफ लीवर एंड बिलियरी साइंसेज से डॉक्टरों की टीम को बुलाया गया।

शनिवार सवेरे लीवर का सफलतापूर्वक ट्रांसप्लांट जयपुर के ही मरीज को किया गया। वह पिछले चार वर्षों से लीवर सिरोसिस रोग से पीडि़त है। इसके साथ ही, एसएमएस अस्पताल में लीवर ट्रांसप्लांट को लेकर पिछले करीब तीन साल से चला आ रहा इंतजार समाप्त हो गया।